बाढ़ का कहर:परमान नदी उफान पर, दर्जनों गांवों में घुसा बाढ़ का पानी आश्रय स्थल में की गई लोगों के खाने-पीने की व्यवस्था

जोगबनीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जलमग्न जोगबनी शहर । व रेलवे स्टेशन परिसर । - Dainik Bhaskar
जलमग्न जोगबनी शहर । व रेलवे स्टेशन परिसर ।
  • प्रभावित इलाकों के लोगों को भेजा गया आश्रय स्थल, विधायक व अधिकारियों ने लिया क्षेत्र का जायजा

दो दिनों से लगतार हो रही मूसलाधार बारिश और नेपाल से आने वाली पानी से परमान सहित अन्य नदियां उफान पर है। नदी के उफनाने से जोगबनी नगर परिषद के निचली व उपरी सहित मैदानी इलाकों में बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो गई है। लोगों के घरों में बाढ़ का पानी घुसा गया है। जोगबनी के टिकुलिया, खजुरबाड़ी, तेलियारी, पुरानी जोगबनी, पटेल नगर, हाजी मुहल्ला, घुसकी, भीमसैना, दिपोल, निरपुर, बघुआ सहित नगर परिषद जोगबनी के मैदानी इलाकों में बाढ़ का पानी फैल गया है। नेपाल भाग के दरैया बस्ती, जोगबनी रेलवे स्टेशन परिसर मे भी पानी भर गया है। वहीं जोगबनी मुख्य मार्ग पर इमली गाछी चौक आईसीसी चैक पोस्ट निर्माणाधीन ओवर ब्रिज के समीप दो से तीन फीट पानी बह रहा है। जिससे लोगों का आवागमन प्रभावित हो गई है। जोगबनी का संपर्क टूटता दिख रहा है। लोगों को एक बार फिर से 2017 वाली मंजर का डर सताने लगी है।

तीन स्थानों पर बनाए गए आश्रय स्थल
लगातार परमान नदी की बढ़ती जलस्तर से आसपास के लोग डरे हुए है। वहीं बाढ की पानी से इस इलाके के सैकड़ों एकड़ भूमि में लगी धान की फलस भी बाढ़ में बर्बादी के कागार पर है। वहीं कई किसानों ने बताया कि धान की फलस की कटनी प्रारंभ थी। जिसका पत्तन खेतों मे ही पड़ा था। अचानक बे मौसम बाढ ने कटी धान को बहा ले गया। जिससे किसानों को भारी नुकसान होने की चिंता सता रही है। वहीं प्रशासन की ओर से हर संभव प्रयास किया जा रहा है। जोगबनी के तीन स्थानों पर बाढ़ आश्रय स्थल बनाया गया है। जहां बाढ़ पीडितों को रखा गया है। इधर तेलियारी एसएसबी कैंप में भी बाढ़ का पानी घुस गया है। जोगबनी नगर परिषद के मुख्य पार्षद प्रतिनिधि राज़ू राय भी बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों का निरीक्षण करने मे जुटे थे। बाढ के पानी से दर्जनों घर जल मग्न हैं। जिनके घर दोमंजिला है वह अपने घर पर है।

बाढ़ प्रभावितों को नहीं होगी परेशानी, मैं खुद कर रहा हूं कैंपिंग : सीओ
फारबिसगंज सीओ संजीव कुमार व नप जोगबनी ईओ सुशील कुमार ने संयुक्त रूप से बताया कि जोगबनी मे बाढ़ जैसी स्थिति उत्पन्न होने के बाद लोगों को बाढ़ आश्रय स्थलों पर भेजा जा रहा है। साथ ही नावों की व्यवस्था किया गया है। बाढ़ आश्रय स्थल पर पहुंचे लोगों के लिए राहत सामग्री सहित खाना पानी की व्यवस्था किया जा रहा है। सीओ ने बताया कि मैं खुद जोगबनी नगर परिषद क्षेत्र का कैंपिग कर रहा हूं। कहीं से किसी प्रकार की किसी दुर्घटना की सूचना नहीं आयी है। सभी सुरक्षित हैं।
विधायक व एसडीओ ने लिया बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों का जायजा
स्थानीय विधायक मंचन केसरी, फारबिसगंज एसडीओ सुरेन्द्र कुमार अलवेला, डीएसपी रामपुकार सिंह, सीओ संजीव कुमार ने बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों का निरीक्षण किया। साथ ही एसडीओ ने सदलबल के साथ जोगबनी सहित मीरगंज स्थित पुल, तटबंध व परमान नदी के बढ़ते जल स्तर का जायजा लिया। साथ ही उन्होंने लगातार मीरगंज परमान नदी के बढ़ते जल स्तर की जानकारी लेते रहे। एसडीओ ने बताया कि बाढ से निपटने के लिए विभाग हर वो संभव प्रयास कर रही है। बाढ पिड़ितो के लिए बाढ आश्रय स्थलों की व्यवस्था किया गया है।

खबरें और भी हैं...