पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

परेशानी:पॉस मशीन में नाम न मिलने पर नहीं मिल रहा है राशन

कहरा9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कई बार शिकायत की पर समाधान नहीं निकला

खाद्य सुरक्षा योजना के लाभुकों का राशन कार्ड में ऑपरेटर द्वारा छेड़छाड़ की वजह से कार्ड रहते राशन से वंचित रहना पड़ रहा है। लाभुकों को इसमें सुधार के लिए दरदर की ठोकरें खानी पड़ रही है। लेकिन प्रखंड में पूर्ण कालीन एमओ नहीं रहने से ऐसे लोगों की समस्याओं को सुलझाने के लिए खोजने से भी प्रखंड में प्रभारी आपूर्ति पदाधिकारी नहीं मिल रहे हैं। पूर्व में राशन कार्डधारी लाभुकों का आधार सीडिंग में ऑपरेटर की गलती की वजह से प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न पंचायतों में सैकड़ों राशन कार्डधारी लोगों के बीच इस तरह की समस्या उत्पन्न हो गई है। जिस कारण लोग कार्ड रहते खाद्यान्न से वंचित हो रहे हैं। मोहनपुर पंचायत के जामुन साह, मिथलेश कुमार, गुरु प्रसाद साह सहित अन्य लोगों ने बताया कि राशन कार्ड से कार्ड के मुखिया का ही नाम पॉस मशीन से विभागीय कर्मी द्वारा गायब कर दिया गया है। जिस कारण डिलरों द्वारा उन्हें राशन नहीं दिया जाता है। कई बार प्रखंड कार्यालय एवं आपूर्ति पदाधिकारी को इसकी शिकायत कर थक गए हैं। लेकिन समस्या जस की तस है। जिससे इस कोरोना महामारी के बीच भी ऐसे राशन कार्डधारी परिवार के मुखिया को अनाज से वंचित होना पड़ रहा है। प्रखंड कार्यालय स्थित आपूर्ति कार्यालय में ऑपरेटर के सिवाय पदाधिकारी मिलते ही नहीं हैं। एमओ सुनिल कुमार सिंह ने बताया कि हमारी पोस्टिंग कमिश्नरी में है और कहरा मुझे प्रभार में मिला है। इसलिए कमिश्नरी से समय मिलने के बाद ही कहरा आपूर्ति कार्यालय जाते हैं। बीडीओ रचना भारतीय ने बताया कि प्रखंड में आपूर्ति विभाग प्रभार में चल रहा है। जिस वजह से शिकायत लेकर लोग हमारे पास आ जाते हैं।

खबरें और भी हैं...