पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अनियमितता:पार्किंग के बिना व्यावसायिक भवन का लाइसेंस जारी नहीं होगा: नगर आयुक्त

कटिहारएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
यह रहा सबूत: वी मार्ट मॉल में सरकारी भूमि को घेरकर बना ली गई है पार्किंग। - Dainik Bhaskar
यह रहा सबूत: वी मार्ट मॉल में सरकारी भूमि को घेरकर बना ली गई है पार्किंग।
  • शहर में पांच बड़े मॉल, चार के पास वाहन लगाने के लिए नहीं है पार्किंग
  • नगर निगम सवाल के घेरे में: बिना पार्किंग मॉल खोलने का लाइसेंस कैसे मिला

शहर में सीटी कार्ट, वी मार्ट, आई इंडिया, रिलाइंस ट्रेंड्स व कोलकाता बाजार जैसे 5 बड़े मॉल हैं। लेकिन 5 मॉल में 4 के पास पार्किंग की समुचित व्यवस्था नहीं है। पूछने पर नगर आयुक्त बोले बिना पार्किंग का लाइसेंस जारी ही नहीं होगा। अब सवाल है कि बिना पार्किंग के मॉल कैसे खुल गया। मॉल में आए ग्राहक सड़क किनारे ही वाहन लगाते हैं। इससे शहर की चौड़ी सड़क पर सकरी हो जाती है। जिला प्रशासन और नगर निगम की ओर से लगातार अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया जा रहा है लेकिन माॅल में पार्किंग का न होना, और सड़क किनारे वाहन लगाने पर किसी का ध्यान नहीं है। क्योंकि शहर में बने मॉल से नगर निगम को राजस्व मिलता है। शहरी क्षेत्र में पूर्व में तीन मॉल थे। इस नए वर्ष में दो नए बड़े बड़े मॉल और खोले गए हैं। लेकिन पांच में से चार मॉलो के पास पार्किंग की व्यवस्था नहीं है। जबकि ट्रेंड्स ने अपने बेसमेंट में पार्किंग ताे बनाया है। लेकिन वाहन लगाने को लेकर माॅल संचालकों के द्वारा प्रति बाइक 10 रुपए की मांग करते हंै। इससे कोई भी खरीदार मॉल का पार्किग स्थल पर वाहनों को पार्क नही करते हैं। जबकि अन्य सिटी कार्ट, भी मार्ट, आई इंडिया व कोलकाता बाजर के पास निजी पार्किंग नहीं है। मॉल संचालकों द्वारा सरकारी जमीन को ही घेर कर पार्किग स्थल बना दिया है। इससे न्यू मार्केट की 100 फीट चौड़ी सड़क भी सकरी सड़क में तब्दील हो गई है।

सड़क किनारे ही वाहनों को करते हैं पार्क
मॉल संचालकों के पास पार्किंग की व्यवस्था नहीं होने से खरीददार अपने वाहनों को सड़क पर ही लगा देते हैं। जिसके कारण इस जगह पर जाम की समस्या उत्पन्न हो जाती है। घंटों लोगों को इस जाम से परेशान होना पड़ता है। शहर के बाटा चौक, न्यू मार्केट, बड़ा बाजार सहित आदि जगहों पर कई मॉल खुले है। लेकिन किसी भी मॉल संचालकों के पास पार्किंग की समुचित व्यवस्था नहीं है। ऐसे में खरीदारी करने के लिए जो ग्राहक वाहन लेकर मॉल पहुंचते है। वह सड़क के किनारे ही अपने वाहनों को खड़े कर देते है।

ऐसे मॉल संचालकों पर होगी कार्रवाई

पार्किग स्थल के बिना किसी भी व्यवसायिक भवन का लाइसेंस निर्गत नहीं होगा। उन्होंने बताया कि मॉल संचालकों के द्वारा पार्किग स्थल दिखाकर मॉल का निर्माण कर लिया होगा। उन्होंने बताया कि जांच कर ऐसे मॉल संचालकों पर कार्रवाई की जाएगी। जिन्होंने नक्शा पास कराने वक्त पार्किग तो दिखाया है लेकिन बाद में उसे व्यवसायिक रूप में प्रयोग कर लिया गया है।
मिनेंद्र कुमार सिंह, नगर आयुक्त

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आर्थिक योजनाओं को फलीभूत करने का उचित समय है। पूरे आत्मविश्वास के साथ अपनी क्षमता अनुसार काम करें। भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। विद्यार्थियों की करियर संबंधी किसी समस्...

    और पढ़ें