पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

समीक्षा:जीआर राशि वितरण में मिली है शिकायत, कराएं सुधार: प्रभारी मंत्री

कटिहार12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
विकास भवन के सभागार में अनुश्रवण की बैठक में प्रभारी मंत्री व अन्य। - Dainik Bhaskar
विकास भवन के सभागार में अनुश्रवण की बैठक में प्रभारी मंत्री व अन्य।
  • सूबे के गन्ना और विधि सह कटिहार के प्रभारी मंत्री ने की अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक

बिहार सरकार के गन्ना एवं विधि मंत्री सह कटिहार के प्रभारी मंत्री प्रमोद कुमार की अध्यक्षता में मंगलवार को विकास भवन के सभागार में बाढ़ से जुड़ी नुकसान पर बैठक हुई। कटिहार सांसद दुलाल चंद्र गोस्वामी के अलावे कोढ़ा, प्राणपुर, कदवा, बरारी, बलराम पुर विधानसभा के विधायक मौजूद थे। सभी प्रतिनिधियों ने बाढ़ के दौरान अपने क्षेत्र में हुए नुकसान का आंकड़ा पेश किया। प्रभारी मंत्री प्रमोद कुमार ने कहा कि बाढ़ के दौरान कटिहार जिला में प्रशासन द्वारा किए गए कार्य बेहद संतोषजनक है। जहां तक जीआर राशि का सवाल है। इस विषय पर जो भी शिकायत आई है। अधिकारियों को इस इसमें सुधार करने की निर्देश दिया गया है।

डीएम ने कहा-जिले के 88, 538 बाढ़ पीड़ितों को दी जा चुकी है जीआर राशि
मौके पर डीएम उद‌्यन मिश्रा सहित कई अधिकारी इस बैठक में शामिल थे। डीएम ने बताया कि जिले में मुख्यतः 08 प्रखंड के 70 पंचायत में 687 गांंव प्रभावित हुए। जिसमें 7,30, 382 आबादी व कुल 90,872 पशु प्रभावित हुए। राहत केंद्र में 763 शरणार्थी द्वारा आवासन किया गया। बाढ़ आपदा से 20,423 हेक्टर क्षेत्र में लगे फसल की क्षति हुई। जिला प्रशासन द्वारा 1,10,000 आबादी को निष्क्रमित किया किया गया। 283 सामुदायिक किचन के माध्यम से 35 लाख प्लेट्स सुबह व शाम को मिलाकर खाना को खिलाया गया। 700 शौचालय एवं 350 ट्यूबवेल का निर्माण किया गया। 2,00,000 पैकेट सूखा राशन एवं 36,936 पॉलीथिन सीट का वितरण किया गया। पीड़ित गर्भवती महिलाओं को रेस्क्यू किया गया। अब तक कुल 88,538 व्यक्तियों को जीआर राशि दी जा चुकी है।

वंचित बाढ़ पीड़ित को जीआर राशि दी जाए: विधायक
प्रभारी मंत्री ने सभी विधायकगण एवं अधिकारीगण को बाढ़ आपदा के स्थाई समाधान के दिशा में सुझाव देने का अनुरोध किया गया। ताकि बाढ़ आपदा से प्रभावित स्कूलों, बिजली आपूर्ति के सिस्टम, नहरों का मरमत्ती कराए जा सके। उन्होंने महानंदा नदी पर बनाए जाने वाले कदवा रिंग बांध के कार्य की प्रगति का समीक्षा की। बरारी विधायक ने जीआर राशि से वंचित परिवारों एवं गंगा एवं बरंडी नदी से हो रहे कटाव के दिशा में कार्य करने का अनुरोध किया। कदवा विधायक ने महानंदा नदी में गाद की समस्या से उत्पन्न् स्थिति से निपटने के लिए उचित कदम उठाए जाए व पीएचसी में डॉक्टरों की नियुक्ति हो।

खबरें और भी हैं...