पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कार्रवाई:अतिक्रमण हटाने के विरोध में प्रदर्शन, खुद के घर में लगाई आग फिर भी प्रशासन ने झोपड़ी हटवा रातोंरात सड़क निर्माण कराया

कटिहार /डंडखोरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गुरुवार को सरकारी जमीन से अतिक्रमित घर को हटवाते प्रशासन। - Dainik Bhaskar
गुरुवार को सरकारी जमीन से अतिक्रमित घर को हटवाते प्रशासन।
  • द्वाशय पंचायत के मकुरजान गांव में 2 वर्ष से सड़क निर्माण में बाधा था सरकारी जमीन पर बना घर
  • अतिक्रमण थी बाधा: 2018 में 300 मीटर सड़क निर्माण की स्वीकृति मिली थी, 2019 में करना था पूरा

2 वर्षों से सड़क निर्माण में बाधा बने अतिक्रमण के खिलाफ प्रशासनिक अमला के साथ पुलिस बल ने मोर्चा संभाला तो जेसीबी और दर्जनों मजदूरों ने अतिक्रमणकारी के फूस के घर और घेरे गए टाटी को हटाने की कार्रवाई की। अतिक्रमण हटाने के दौरान जिला पुलिस बल के 40 महिला और पुरुष जवानों ने मोर्चा संभालते हुए सुरक्षा व्यवस्था बनाई रखी। हालांकि अतिक्रमणकारी प्रशासन की कार्रवाई को रोकने के लिए कई हथकंडे अपनाते रहे। इस दौरान महिलाएं और बच्चे टाट और घर पकड़कर खड़े हो गए। जब इससे भी बात नहीं बनी तो अतिक्रमणकारी ने सरकारी जमीन पर बने खुद के घर में आग लगा दी। लेकिन प्रशासन की सक्रियता के कारण तुरंत आग पर काबू पा लिया गया। जिसके बाद जेसीबी और मजदूरों की मदद से अतिक्रमण हटाया गया। वरीय पदाधिकारियों के निर्देश पर अतिक्रमण हटाने की हुई शुरुआत : डंडखोरा प्रखंड क्षेत्र के द्वाशय पंचायत के मकुरजान गांव में सड़क की सरकारी जमीन से अतिक्रमण हटाने को लेकर प्रशासनिक कार्रवाई की गई। अनुमंडल पदाधिकारी और अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी के निर्देश पर प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी बीडीओ अंतिमा कुमारी, सीओ शब्बीर अहमद अंसारी थानाध्यक्ष शैलेश कुमार सिंह अन्य पुलिस पदाधिकारियों व जिला पुलिस बलों के साथ अतिक्रमण स्थल पर जाकर अतिक्रमण हटाने को ले अतिक्रमणकारियों से बात की गई लेकिन अतिक्रमणकारी अतिक्रमण हटाने को ले तैयार नहीं हुए। नहीं मानने पर प्रशासन ने वरीय पदाधिकारियों के निर्देशानुसार अतिक्रमण हटाने की शुरुआत की। जिसके बाद अतिक्रमणकारियों ने काफी विरोध किया।

प्रशासन की मौजूदगी में देर रात तक सड़क का कार्य पूरा
प्रशासन की सूझबूझ और सक्रियता से अतिक्रमण हटाया गया। ग्रामीण सड़क विभाग के जेई मनीष कुमार की मौजूदगी में संवेदक संजय कुमार द्वारा तत्काल मिट्टी डालकर रोलर चलाकर सड़क निर्माण का कार्य भी शुरू कर दिया गया। इसके बाद ईंट और जीएसबी डाला गया। देर रात तक पीसीसी ढलाई कर सड़क निर्माण कार्य को पूरा कर लिया गया।

बीच टोला से बगीचा टोला तक बनेगी सड़क
द्वाशय पंचायत के मकुरजान गांव के बीच टोला से बगीचा टोला तक सड़क निर्माण का कार्य होना है। लेकिन प्रस्तावित बिहार सरकार की सड़क को मसो गुलशन तथा जहूर आलम घर बनाकर अतिक्रमित कर रखा था। स्थानीय स्तर पर पंचायती पर भी हुई पर अतिक्रमणकारी द्वारा घर नहीं हटाया गया। जिसके बाद ग्रामीण कार्य विभाग की ओर से अतिक्रमण हटाने का आवेदन सीओ को दिया गया। सीओ ने भूमि का पैमाईश करा कर अतिक्रमण कारियों के विरुद्ध अतिक्रमणवाद चलाते हुए नोटिस जारी किया। लेकिन निर्धारित तिथि के बाद भी घर नहीं हटाने पर एसडीओ तथा एसडीपीओ के संयुक्त निर्देश पर अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की गई।

अतिक्रमण हटने के बाद रातो-रात सड़क बनकर तैयार।
अतिक्रमण हटने के बाद रातो-रात सड़क बनकर तैयार।

500 लोगों को आवाजाही में होती थी परेशानी
मकुरजान के बगीचा टोला के 500 लोगों को आवाजाही में परेशानी होती थी। बारिश में खेतों की मेड़ से आवाजाही करते थे। 2018 में इस गांव को मुख्य सड़क से जोड़ने के लिए 300 मीटर सड़क निर्माण की स्वीकृति मिली थी। 2018 के अक्टूबर माह में शुरू होकर अप्रैल के 2019 माह में खत्म हो जाना था। लेकिन अतिक्रमणकारी द्वारा 2 वर्षों से सड़क निर्माण नहीं होने दिया गया था।

4 दिन पूर्व अंचल कार्यालय का भी हुआ था घेराव
सड़क निर्माण में हो रही देरी पर 4 दिन पूर्व सड़क से वंचित ग्रामीणों ने अंचल कार्यालय का घेराव भी किया था। मौके पर प्रभारी अंचल निरीक्षक अरविंद कुमार सिंह, ग्रामीण कार्य विभाग के जेई मनीष कुमार, राजस्व कर्मचारी एहसान अली, अंचल कर्मी मो. जैद, रामानंद सिंह, अंचल अमीन गणेश पासवान, एसआई राजवीर साहू, एएसआई सत्येन्द्र रविदास सहित चार दर्जन पुलिस बल रहे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज समय कुछ मिला-जुला प्रभाव ला रहा है। पिछले कुछ समय से नजदीकी संबंधों के बीच चल रहे गिले-शिकवे दूर होंगे। आपकी मेहनत और प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपको...

    और पढ़ें