वारदात:बहू से लेना था बदला तो पानी की टंकी में 4 महीने की पोती को डालकर ले ली जान

कटिहार/आजमनगर22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
शनिवार को पुलिस की गिरफ्त में हत्यारोपी दादी व घटना के बादउपस्थित ग्रामीणों व परिजनों से मामले की जानकारी लेती पुलिस। - Dainik Bhaskar
शनिवार को पुलिस की गिरफ्त में हत्यारोपी दादी व घटना के बादउपस्थित ग्रामीणों व परिजनों से मामले की जानकारी लेती पुलिस।
  • आजमनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत देवगांव पंचायत के ब्राह्माईन गांव का मामला
  • पाेती की बीमारी पर हाेने वाले अधिक खर्च काे लेकर बहू के साथ अक्सर हाेता था विवाद

आजमनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत देवगांव पंचायत के ब्राह्माईन गांव में एक 51 वर्षीय महिला ने बहू से विवाद होने के कारण 4 माह की पोती को पानी की टंकी में डालकर ढक्कन बंद कर दिया। जिससे नवजात की मौत हो गई। पुलिस ने शनिवार को इसका खुलासा कर दिया। शनिवार को प्रेस कांफ्रेंस कर डीएसपी प्रेम नाथ राम ने बताया कि नवजात की दादी ने स्वीकार किया कि नवजात बच्ची ज्यादा बीमार रहती थी जिसके इलाज में काफी रुपए पैसे लग रहे थे, बावजूद बच्ची स्वस्थ नहीं रहती थी। जिसके कारण उन्होंने इस घटना को अंजाम दिया। 51 वर्षीय गुलशन खातून की अपनी बहू असमीना खातून के साथ लगातार झगड़ा झंझट होता था। जिससे तंग आकर शुक्रवार को उन्होंने अपनी 4 माह की पोती आसिफा को पानी की टंकी में डालकर ढक्कन बंद कर दिया। जब परिजनों को इसकी भनक लगी तो आनन-फानन में पानी का ढक्कन खोला, लेकिन तब तक बच्ची की मौत हो चुकी थी। घटना की खबर सुनकर स्थानीय ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। ग्रामीणों के द्वारा ही आजमनगर थाना को सूचना दिया गया। सूचना पर थानाध्यक्ष मंतोष कुमार दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। आवश्यक पूछताछ की और बच्ची के शव को अपने कब्जे में लिया। पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।

नवजात की मां के आवेदन पर मामला हुआ दर्ज
पुत्री की हत्या को लेकर नवजात की मां असमीना खातून के आवेदन पर थाना में मामला दर्ज करते हुए पुलिस ने आरोपी दादी गुलशन को शनिवार की अहले सुबह गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के पूछताछ में दादी ने स्वीकार किया कि उन्होंने इस घटना को अंजाम दिया है। जिसके बाद आरोपी गुलशन खातून को जेल भेज दिया गया। ग्रामीणों ने कहा कि दादी इतनी पागल हो गई कि मासूम की हत्या करने में उसका हाथ भी नहीं कांपा।

पोती बीमार थी, काफी खर्च हो रहा था इसलिए मार डाला
गुलशन खातून से पूछताछ में इस बात का खुलासा हुआ कि उसकी पोती के जन्म होने के बाद से ही बीमार रहती थी। इलाज में काफी खर्च भी हो रहा था। बावजूद वह स्वस्थ नहीं रहती थी। इसको लेकर उसमें और बहू में लगातार विवाद होता था। पिछले 3 दिनों से उनकी बहू से इसी बात को लेकर विवाद हो रहा था। विवाद के कारण गुलशन खातून का गुस्सा इस हद तक भड़का कि उसने बहू से बदला लेने की नीयत से पोती की हत्या की साजिश बनाई। शुक्रवार दोपहर को 4 माह की पोती को पानी की टंकी में डालकर उसकी जान ले ली।

दादी ने हत्या की बात स्वीकारी, भेजा जेल
बच्ची को दादी ने पानी के टंकी में डाल कर हत्या की थी। मृतक नवजात बच्ची के दादी ने हत्या की बात स्वीकार कर ली है। गुलशन खातून को जेल भेज दिया गया है।
-प्रेमनाथ राम, डीएसपी, बारसोई

खबरें और भी हैं...