उत्साह:लोहड़ी पर अग्नि प्रज्ज्वलित कर डाले तिल, गुड़, गजक, रेवड़ी

कटिहार3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अलाव जलाकर लोहड़ी पर्व मनाते सिख परिवार। - Dainik Bhaskar
अलाव जलाकर लोहड़ी पर्व मनाते सिख परिवार।
  • लोहड़ी को लेकर सिख समुदाय में रहा विशेष उल्लास, इस मौके पर भांगड़ा भी किया

प्रखंड क्षेत्र में सिख समुदाय ने लोहड़ी का त्योहार हर्षोल्लास के साथ मनाया। ऐतिहासिक गुरुद्वारा भवानीपुर गुरुबाजार काढ़ागोला साहिब के निकट मित्तल निवास के प्रांगण में जुटे पंजाबी समाज के लोग गोल घेरा बनाकर बीच में अलाव लगाकर आग में तिल, गुड़, गजक, रेवड़ी, मूंगफली चढ़ाने के साथ पंजाबी गीतों पर भांगड़ा करते नाचते गाते हुए खुशी मनाया। इस दौरान अग्नि के चारो ओर झूमते रहे, गुरूद्वारा के हेडग्रंथी भाई सुरजीत सिंह ने बताया कि लोहड़ी का त्योहार पंजाब एवं हरियाणा में किसानों का नया साल माना जाता है।

लोहड़ी को सर्दियों के जाने एवं बसंत के आने का संकेत माना जाता है। लोहड़ी का त्योहार फसल की कटाई और बुआई के लिए मनाया जाता है। आग में गुड़, तिल, रेवड़ी, मूंगफली, गजक डालने एवं बाद में एक दूसरे को बांटने की परंपरा है। इस दिन पॉपकॉर्न एवं तिल के लड्डू भी बांटे जाते है। पंजाब में इस दिन रबी की फसल को आग में समर्पित कर सूर्य देव एवं अग्नि का आभार प्रकट किया जाता है। इस दिन किसान फसल की उन्नति की कामना करते है। प्रखंड क्षेत्र में लोहड़ी के त्योहार में अमरजीत कौर, नीलम कौर, सुरजीत कौर, बलजीत कौर, हरजीत कौर, जसमीत, अमृता, जसन, मनप्रीत, जानवी, यशवीर सिंह, परविंदर सिंह , भोला सिंह सहित सिख संगतों ने जमकर हिस्सा लिया।

खबरें और भी हैं...