पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वारदात:घरेलू विवाद में दामाद ने ससुर के भाई के सिर, कमर और सीने में भाला घोंपा, मौत

कदवा8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • भररी पंचायत के बदबाबारी गांव का मामला, घायलों को पहुंचाया स्वास्थ्य केंद्र, दुर्गागंज

खाना बनाने को लेकर पति-पत्नी के बीच झगड़ा को निपटाने गए गोपाल राय के भाई की भाला से गोदकर हत्या कर दी गई। मामला भररी पंचायत के बदबाबारी गांव की है। मृतक भीम राय तीन भाई हैं। जिसका बड़ा भाई गोपाल राय के समधी का घर उनके ही टोले में स्थित है। दिन में भोजन बनाने के मामले को लेकर गोपाल राय अपने दामद घर उन्हें समझाने गए थे। समझा बुझाकर वापस लौटने पर लगभग 9:00 बजे रात्रि उनके दामाद के परिवार के दर्जनों लोग हरवे हथियार के साथ इनके घर पर आ धमके और भद्दी भद्दी गालियां देने लगे। गाली देने के क्रम में गोपाल राय के भाई भीम राय द्वारा कहा गया कि जिनके साथ आपका झंझट है

उनके घर पर जाकर गाली दीजिए। मैं उनका भाई हूं मुझे क्यों गाली दे रहे हैं। इसी बात का विरोध करने पर बबलू राय और दामाद चीकू राय ने धारदार हथियार भाला से उनके सिर कमर व छाती पर वार कर दिया। जिससे उसकी मौके पर मौत हो गई। घटना के क्रम में मृतक भीम राय की पत्नी कुंती देवी व उनका भाई गोपाल राय भी घायल हो गया। सभी को ग्रामीणों के सहयोग से नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र दुर्गागंज लाया गया। जहां इलाज कर रहे चिकित्सक डॉ शाहनवाज आलम ने भीम राय को मृत घोषित कर दिया।

तीन पुत्री व एक पुत्र के सिर से उठ गया पिता का साया, भीम की माैत से घर में पसरा मातम
घटना के उपरांत चीख और चित्कार से पूरे मोहल्ले का माहौल गमगीन हो गया। मृतक के परिजनों का रो रोकर बुरा हाल है। मृतक भीम राय की तीन पुत्री व एक पुत्र है। जिसमें पुत्र सबसे छोटा पांच वर्ष का है। जिनके सिर से अचानक परिवार के ही लोगों ने उनके पिता का साया छीन लिया। बच्चे रो रोकर अपने पिता से मिलने की जिद कर रहा है। पत्नी कुंती देवी का भी रो रोकर बुरा हाल है। पूरे गांव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है। फफक कर पत्नी कुंती देवी का कहना है आबे केना के पालवे हम्मै चारों बच्चा का हो, हमरो चारों बच्चा कै के खिलईते हो बाबू...कहते कहते बेहोश हो जाती है।

खबरें और भी हैं...