पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सुविधा:193 करोड़ से शहर में तैयार होगा स्ट्रॉम वॉटर ड्रेनेज सिस्टम, जलजमाव से मिलेगी निजात

कटिहार2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 20 लाख से ऑर्गेनिक वेस्ट कम्पोस्ट मशीन की पहले ही की जा चुकी है खरीदारी
  • उदामा रहिका में 11 एकड़ जमीन पूर्व में ही अधिकृत की जा चुकी है, जहां सॉलिड वेस्ट को किया जा रहा है डंप


(कुमार गौरव)

शहरवासियों के लिए खुशखबरी है। एक ओर जहां शहरवासी जलजमाव की समस्या से पिछले कई वर्षों से परेशान हैं वहीं दूसरी ओर इन तमाम समस्याओं से निजात दिलाने के 193 करोड़ रूपए की लागत का डीपीआर तैयार किया गया है। जिसके तहत शहर में स्ट्रॉम वॉटर ड्रेनेज सिस्टम को डेवलप करने की कार्ययोजना तैयार की गई है। इसके लिए सारी प्रक्रिया पूरी हो चुकी है और जल्द इसे अमल में लाने की कवायद शुरू की जाएगी। इस योजना के तहत शहर के सारे नालों को एक दूसरे से न सिर्फ कनेक्ट किया जाएगा बल्कि जलनिकासी के लिए ड्रेनेज की समुचित व्यवस्था भी की जाएगी। शहर के विकास को लेकर तैयार किए गए मास्टर प्लान पर नगर विकास एवं आवास विभाग के द्वारा हरी झंडी दिखा दी गई है। जिसके बाद कयास लगाए जा रहे हैं कि नगर निगम क्षेत्र के गली माेहल्ले में नाले का निर्माण शुरू कर दिया जाएगा। शहर में जलजमाव की समस्या न रहे इसके लिए मास्टर प्लान को अंतिम रूप दिया जा चुका है।
नगर आयुक्त मिनेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि शहर के छोटे छोटे नालों को आपस में कनेक्ट कर आसपास के मुख्य नालों से कनेक्ट करने की योजना है।

जिसके लिए फंड की काेई कमी नहीं रहने दी जाएगी। बता दें कि गत दिनों बारिश में नालों में जलनिकासी नहीं होने के कारण अड़गड़ा चौक, लड़कनियां टोला, एमजी रोड, पानी टंकी चौक, न्यू मार्केट, हाईस्कूल पारा, गर्ल्स स्कूल रोड, अमला टोला, नया टोला फुलवारी समेत सभी 45 वार्डों में नालों की स्थिति को पटरी पर लाने की योजना है। वहीं दूसरी ओर शहर में जलनिकासी की राह में अतिक्रमण सबसे बड़ी बाधा है। अधिकांश जगहों पर दुकानदारों ने नालों को ही अतिक्रमित कर लिया है। जिस कारण नाले से पानी का बहाव बाधित हो जाता है। शहरी क्षेत्र से ठाेस कचरे के समुचित निष्पादन के लिए जल्द ही टेंडरिंग प्रक्रिया पूरी की जाएगी। इसके लिए गत दिनों टेंडर भी हुआ था लेकिन सिंगल टेंडर के कारण कार्य अधर में लटका है।

हालांकि 20 लाख की लागत से ऑर्गेनिक वेस्ट कम्पोस्ट मशीन की खरीदारी पहले ही की जा चुकी है। वहीं उदामा रहिका में 11 एकड़ जमीन पूर्व में ही अधिकृत की जा चुकी है। जहां सॉलिड वेस्ट को डंप किया जा रहा है। यहीं ऑर्गेनिक वेस्ट कम्पोस्ट मशीन को स्थापित किया जाएगा। जहां कम्पोस्ट भी तैयार होगा। इसके लिए मल्टी एक्ट सिस्टम नाम की एजेंसी को अधिकृत भी किया जा चुका है। जिसके मानव बल न केवल शहर के घरों में जाकर ठोस कचरे को कलेक्ट करेंगे बल्कि दो अलग अलग डिब्बों में सूखा व गीला कचरा को निष्पादित भी करेंगे।

120 आउटसोर्स तो 320 निगम के हैं सफाई कर्मी
बता दें कि फिलवक्त नगर निगम में 120 आउटसोर्स पर तो 320 सफाई कर्मी निगम की ओर से पूरे 45 वार्डों में अपना कार्य कर रहे हैं। इसके बाद भी शहर में सफाई व्यवस्था के नाम पर कुछ खास नहीं हो पा रहा है। शहर के अंदर के तमाम छोटे छोटे नालों की स्थिति भी बेहद खराब है। स्थिति कुछ ऐसी है कि बरसात के दिनों नाले का पानी उफनकर बाहर आने लगता है। मुख्य सड़कों को छोड़ दें तो शायद ही ऐसी कोई सड़क या मोहल्ला है जहां जलजमाव से लोगों को परेशानी नहीं होती हो। कई मुख्य सड़कों पर आमदिनों भी जलजमाव की स्थिति बनी रहती है।

जल्द शुरू होगा कार्य, अतिक्रमण हटाने के लिए चलाया जाएगा अभियान, लोगों को मिलेगी सुविधा
स्ट्रॉम वॉटर ड्रेनेज सिस्टम को डेवलप करने की कार्ययोजना पर जल्द ही कार्य की शुरूआत होगी। ताकि शहरवासियों का जलजमाव व गंदगी से निजात मिल सके। इसके लिए टेंडरिंग से संबंधित कागजी कार्रवाई पूरी हो चुकी है। वहीं शहर के अतिक्रमित क्षेत्रों में पुलिसबल की मदद से इंक्राेचमेंट एक्ट के तहत स्पेशल ड्राइव चलाकर कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।
मिनेंद्र कुमार सिंह, नगर आयुक्त, नगर निगम कटिहार।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई लाभदायक यात्रा संपन्न हो सकती है। अत्यधिक व्यस्तता के कारण घर पर तो समय व्यतीत नहीं कर पाएंगे, परंतु अपने बहुत से महत्वपूर्ण काम निपटाने में सफल होंगे। कोई भूमि संबंधी लाभ भी होने के य...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser