समीक्षा:‘कन्या विवाह योजना के 5661 से 4040 आवेदन सत्यापित’

कटिहार16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
समाहरणालय सभाकक्ष में आयुक्त, डीएम, एसपी व अन्य। - Dainik Bhaskar
समाहरणालय सभाकक्ष में आयुक्त, डीएम, एसपी व अन्य।
  • पूर्णिया प्रमंडल आयुक्त राहुल रंजन महिवाल ने जिले में समाज सुधार अभियान के तहत किए गए कार्यों की समीक्षा की

समाहरणालय सभागार में पूर्णिया प्रमंडल आयुक्त राहुल रंजन महिवाल की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई। जिसमें डीएम उदयन मिश्रा, उप विकास आयुक्त अरुण कुमार ठाकुर, पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र कुमार, वरीय उपसमाहर्ता सह प्रभारी जिला जनसंपर्क पदाधिकारी संजय कुमार सहित अन्य जिलास्तरीय पदाधिकारी मौजूद रहे। बैठक में समाज सुधार अभियान कार्यक्रम के तहत जिला प्रशासन द्वारा संचालित किये जा रहे कार्यों जैसे मद्य निषेध एवं उत्पाद, निबंधन विभाग, दहेज प्रथा एवं बाल विवाह उन्मूलन कार्यक्रम, गृह विभाग से संबंधित, सतत जीविकोपार्जन योजना, मुख्यमंत्री ग्रामीण गली नली पक्कीकरण योजना, लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान-2, धान अधिप्राप्ति आदि से संबंधित कार्यों की समीक्षा की गई। डीएम ने जानकारी दी कि मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना अंतर्गत जिला में 5661 आवेदन प्राप्त हुए जिसमें जिला बाल संरक्षण इकाई द्वारा 4040 आवेदन को सत्यापित कराया गया। वित्तीय वर्ष 2021-22 में 3173 लाभुकों के खाते में मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना राशि का भुगतान कर दिया गया है। शेष आवेदनों के भुगतान की प्रक्रिया जारी है।

540 जनता दरबार में 1123 भूमि विवाद का निपटारा किया गया
भूमि विवाद के समाधान के लिए थाना, अनुमंडल और जिला स्तर पर जनता दरबार का आयोजन कर किया जा रहा जिसके तहत जुलाई नवंबर 2021 के बीच आयोजित 540 जनता दरबार के माध्यम से 1123 भूमि विवाद का निपटारा किया गया है। वहीं डीएम ने जानकारी दी कि सतत जीविकोपार्जन योजना के तहत शराब उत्पादन एवं बिक्री में संलिप्त 5382 परिवारों को एकीकृत परिसंपत्ति के सृजन हेतु सहयोग राशि जिला प्रशासन द्वारा उपलब्ध कराया गया है।

314306 परिवारों के लिए शौचालय निर्माण कराया गया है
मुख्यमंत्री ग्रामीण पेयजल निश्चय योजना 3218 लक्षित वाडों में 3202 वार्डों में कार्य पूर्ण कर स्वच्छ जल मुहैया कराया जा रहा है। लोहिया स्वच्छता अभियान के तहत 314306 परिवारों के लिए शौचालय निर्माण कराया गया है। तो वहीं 390 सामुदायिक स्वच्छ परिसर का निर्माण किया गया है। जिले में धान अधिप्राप्ति 55000 मीट्रिक टन धान अधिप्राप्ति के टन धान अधिप्राप्ति के लक्ष्य के विरुद्ध 40575 मीट्रिक टन धान अधिप्राप्ति की गई है।

खबरें और भी हैं...