10 साल बाद शराबकांड में सजा, 3 माह की जेल:देसी शराब रखने में 500 रुपए का जुर्माना भी, खगड़िया कोर्ट ने सुनाई इस साल की पहली सजा

खगड़िया16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

खगड़िया सिविल कोर्ट के उत्पाद विशेष न्यायाधीश अली अहमद ने जिले में इस साल की पहली सजा सुनाई। उत्पाद अधिनियम के एक आरोपी को 10 साल बाद कोर्ट द्वारा 3 माह का कारावास और 500 रुपए का जुर्माना देने का आदेश दिया गया है।

दरअसल, 1 अक्टूबर को नगर थाना पुलिस द्वारा शहर के जयप्रकाश नगर मोहल्ला निवासी गिरधर यादव के पुत्र राजदीप यादव को पूरबी केबिन ढाला हनुमान मंदिर के पास से 270 पाउच देशी शराब की बरामदगी हुई थी।

इस संबंध में पुलिस ने थानकांड संख्या 512/12 दर्ज किया था। मामले में साक्ष्यों के आधार पर न्यायालय द्वारा गुरुवार को यह सजा सुनाई गई है। इस केस में अभियोजन पक्ष की ओर से विशेष लोक अभियोजक उत्पाद प्रियरंजन कुमार और अभियुक्त की ओर से अधिवक्ता नीरज कुमार मौजूद रहे।

2021 में 21 को मिल चुकी है सजा

विशेष लोक अभियोजक उत्पाद प्रियरंजन कुमार ने बताया कि न्यायालय द्वारा सभी साक्ष्य को ध्यान में रखकर अभियुक्त को सजा सुनाई गई है। उन्होंने बताया कि बीते वर्ष उत्पाद न्यायालय द्वारा 21 लोगों के विरुद्ध सजा सुनाई जा चुका है। वर्ष 2022 की यह पहली सजा घोषित न्यायालय द्वारा किया गया है।

खबरें और भी हैं...