खगड़िया में कुख्यात को दो अलग-अलग मामलों में सुनाई सजा:कोर्ट ने शराब के नशे में हथियार के साथ गिरफ्तार अपराधी को सुनाई सजा, 3 और 2 वर्ष की कैद

खगड़ियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
खगड़िया व्यवहार न्यायालय - Dainik Bhaskar
खगड़िया व्यवहार न्यायालय

खगड़िया व्यवहार न्यायालय के ADJ द्वितीय और विशेष न्यायालय उत्पाद अली अहमद की कोर्ट ने एक अपराधी को सजा सुनाई है। कोर्ट ने उसे उत्पाद अधिनियम धारा 37 बी के लिए 50 हजार अर्थदंड जमा करने या 3 माह कैद की सजा सुनाई है। वहीं आर्म्स एक्ट के दो अलग-अलग धाराएं क्रमशः 25 (1-बी) (ए) और 26 (1) में 3 वर्ष कैद और 3000 अर्थदंड और 2 वर्ष कैद के साथ एक हजार अर्थदंड भरने की सजा दी है। कोर्ट ने अपने आदेश में कहा है कि उक्त सभी सजाएं एक साथ चलेगी। अगर अर्थदंड नहीं भरी जाती है तो उस स्थिति में बंदी को सभी सजा अलग-अलग काटनी होगी।

फ़ाइल फोटो (कुख्यात अपराधी रामपुकार सिंह चेक शर्ट में)।
फ़ाइल फोटो (कुख्यात अपराधी रामपुकार सिंह चेक शर्ट में)।

नशे की हालत में हथियार के साथ धराया था कुख्यात
बीते वर्ष 18 फरवरी 2019 को परबत्ता थाना क्षेत्र के बरपनिया बहियार के पास गुप्त सूचना पर कार्रवाई की गई। पुलिस ने 7 वर्षों से फरार कुख्यात अपराधी श्रीरामपुर ठूठी गांव निवासी स्व रामानुज सिंह के पुत्र रामपुकार को गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से पुलिस ने 2 लोडेड देशी कट्टा और 2 दर्जन से अधिक गोली बरामद की थी।

इस संबंध में परबत्ता थाना में कांड संख्या 53/19 दर्ज किया गया था। बताया जाता है कि अपराधी शराब के नशे में भी था। बता दें कि रामपुकार सिंह पर कई संगीन मामले दर्ज हैं जिसमे हत्या, धमकी सहित अन्य मामले शामिल है। सोमवार को सुनाई गई सजा के समय बचाव पक्ष की ओर से अधिवक्ता जयकांत चौधरी और अभियोजन पक्ष से विशेष लोक अभियोजक उत्पाद प्रियरंजन कुमार मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...