पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना का कहर:24 घंटे में 3 संक्रमितों की मौत, 255 नए रोगी मिले, 74 ठीक हुए

खगड़िया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लाॅकडाउन के बावजूद ऑटो पर यात्रियों की भीड़ - Dainik Bhaskar
लाॅकडाउन के बावजूद ऑटो पर यात्रियों की भीड़
  • जिले में एक्टिव केस 2069, हर दिन बढ़ रही है मरीजों की संख्या, फिर भी लापरवाही कर रहे लोग

जिले में कोरोना की दूसरी लहर थमने का नाम नहीं ले रही है। संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए राज्य सरकार ने संपूर्ण लाॅकडाउन भी लगाया है, लेकिन लोग हैं कि मानने को तैयार नहीं। बताते चलें कि जिले में पिछले 24 घंटे में तीन कोरोना संक्रमितों की मौत हो गई। इनमें एक की मौत बेगूसराय में इलाज के दौरान हुई, जबकि दो मरीजों की मौत कोविड केयर सेंटर में हुई। तीनों ही मृतकों में कोरोना के गंभीर लक्षण पाए गए थे। वहीं पिछले 24 घंटे में जिले में कुल 255 संक्रमित मरीजों की पहचान हुई है। हालांकि एक दिन में 74 लोगों ने कोरोना को हराकर इस संक्रमण से उबर भी गए। मगर जिस रफ्तार से कोरोना पाॅजिटिव केस सामने आ रहे हैं और लोगों की मौत हो रही है वह बेहद चिंता का विषय है। इसे रोकने के लिए हम नहीं संभले तो आने वाले दिनों में संक्रमण के चपेट में आने से मरने वालों की संख्या में काफी वृद्धि हो सकती है। जिले में अबतक कुल 466019 लोगों की जांच में 6771 लोग संक्रमित पाए गए। जबकि इनमें से 4327 लोग ठीक हो चुके हैं। जबकि आरटीपीसीआर जांच के हेतु लिए गए सैंपल में से 2332 लोगों का रिपोर्ट आना अभी बाकी है। जिले में 1790 रोगी होम आइसोलेशन में रहकर कोरोना से लड़ाई लड़ रहे हैं।

दूसरी लहर में 19 लोगों ने गंवाई जान
कोरोना की दूसरी लहर शुरू होने के बाद जिले में अप्रैल के पहले सप्ताह में पाॅजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ने लगी। फिर देखते ही देखते आंकड़ा दो हजार से अधिक पहुंच गया। जबकि इस 40 दिन में सरकारी आंकड़ों के अनुसार 19 लोगों की मौत हो गई। बताते चलें कि बीते 40 दिन में कोरोना जैसे लक्षण के साथ जिले में करीब 50 से ज्यादा मौतें हुई हैं, सभी मृतकों में एक जैसे लक्षण पाए गए और मृतकों में सबसे ज्यादा बुजुर्गों की संख्या है। वहीं कोविड केयर सेंटर में 20 गंभीर मरीज अपनी सांस बचाने के लिए ऑक्सीजन के सहारे कोरोना से जंग लड़ रहे हैं। जबकि दर्जनों लोग जिले से बाहर निजी अस्पताल में इलाजरत हैं।

टीकाकरण की रफ्तार में लानी होगी तेजी
जिले में कोरोनारोधी टीकाकरण कार्य काफी धीमी गति से चल रहा है, जिसमें तेजी लानी होगी। जिले में पिछले 24 घंटे में 1790 लोगों का ही वैक्सीनेशन किया गया। जबकि जिले में वैक्सीनेशन का प्रतिदिन का लक्ष्य 7740 है। इसलिए अधिक से अधिक लोगों को सुरक्षित रखने के लिए टीकाकरण की रफ्तार को गति देना पड़ेगा। ज्ञात हो कि संपूर्ण लाॅकडाउन के बावजूद सुबह के चार घंटे की छूट के बीच बाजारों में उमड़ने वाली भीड़ कहती है कि ऐसे में कोरोना से जीतना मुश्किल है। क्योंकि सुबह से करीब 11 बजे तक हर तरफ लोगों की भीड़ देखी जाती है। जबकि हर तरफ यात्री वाहनों का परिचालन बेधड़क होता है। जो घातक साबित हो रहा है।

खबरें और भी हैं...