पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

खतरा:24 घंटे में बूढ़ी गंडक का जलस्तर 6 सेमी बढ़ा कोसी और बागमती खतरे के निशान से ऊपर

खगड़िया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नाद बनी नौका
  • वार्ड 26 में दर्जनों परिवार को पलायन की मजबूरी, जिले में एक लाख की आबादी प्रभावित

24 घंटे में बागमती के जलस्तर में 3 सेमी और कोसी के जलस्तर में 8 सेमी की गिरावट हुई। जबकि बलुवाही स्लूइस के समीप सोमवार देर रात के बाद बूढ़ी गंडक के जलस्तर में 6 सेमी की वृद्धि हुई। गंडक के जलस्तर में वृद्धि से रातोरात परमानंदपुर के श्यामलाल चंद्रशेखर नर्सिंग काॅलेज में 4 फीट पानी जम गया। वार्ड 26 बलुवाही बस स्टैंड के पूर्वी भाग पानी से पूरी तरह घिर गया। दान नगर और जेएनकेटी इंटर विद्यालय के पास बनाए गए स्लूइस गेट बंद कर पंपसेट के माध्यम से पानी बाहर निकाला जा रहा है। 7 प्रखंड के 116 गांव के करीब एक लाख से अधिक की आबादी प्रभावित है। जिसमें अलौली, सदर प्रखंड और बेलदौर प्रखंड में कोसी नदी से प्रभावित है।
गंडक के जलस्तर में वृद्धि से शहर में दिखने लगा बाढ़ का प्रभाव
वार्ड नंबर 26 में बस स्टैंड के पूरब बांध पर बसे परिवार सोमवार की रात जलस्तर में बढ़ोतरी होने से पानी से घिर गए हैं। लोग चौकी, ट्यूब, बड़ा चदरा व प्लास्टिक के डब्बा का नाव बनाकर आवागमन कर रहे हैं। पशु पालक किसान अपने पशुओं को एनएच किनारे ला रहे हैं।

लोहिया नगर के लोगों में दहशत
वार्ड नंबर 24 के लोहिया नगर में बसे लोगों में भी पानी के बढ़ते रफ्तार को देख दहशत व संसय की स्थिति बन गई है। अघोरी स्थान के रास्ते गंडक का पानी लोहिया नगर में प्रवेश कर लोगों को बेघर होने पर मजबूर करता है। हालांकि अभी निचले भाग के कुछ घरों में ही पानी प्रवेश किया है, यदि पानी बढ़ना जारी रहा तो लोगों को दूसरे जगह शरण लेना पड़ेगा।
शहर के पानी को निकालने
के लिए चलाया जा रहा पंपसेट
नगर सुरक्षा बांध पर बनाए गए स्लूइस गेट से होता है। गंडक के जलस्तर को बढ़ते देख दोनों फाटक तो बंद कर दिया गया है, मगर वर्षा व नाला का पानी से शहर ना डूब जाए इसके लिए दाननगर बांध पर पंप हाउस के माध्यम से एवं जेएनकेटी इन्टर विद्यालय के पास बने स्लूइस गेट के पास पंपिंग सेट के सहारे शहर का पानी बाहर निकाला जा रहा है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि वालों से अनुरोध है कि आज बाहरी गतिविधियों को स्थगित करके घर पर ही अपनी वित्तीय योजनाओं संबंधी कार्यों पर ध्यान केंद्रित रखें। आपके कार्य संपन्न होंगे। घर में भी एक खुशनुमा माहौल बना ...

और पढ़ें