सरकारी दिशा-निर्देश:ज्यादा मामले होने पर पूरा गांव कंटेनमेंट जोन बनेगा

खगड़िया6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • डीएम ने जिले और प्रखंड के पदाधिकारियों के साथ की बैठक, माइकिंग कराने का दिया निर्देश

समाहरणालय सभाकक्ष में बुधवार को डीएम आलोक रंजन घोष ने जिले व प्रखंड के अधिकारियों के साथ बैठक की। डीएम ने बैठक में उपस्थित लोगों को बताया कि अभी जिले में कोरोना के 1500 से ज्यादा सक्रिय मामले हैं। जिले से अनुमंडलों को भेजे जा रहे आंकड़ों को फिल्टर करके सभी बीडीओ को ससमय भेजा जाना आवश्यक है। ताकि कंटेनमेंट जोन को तार्किक आधार पर बनाया जा सके।

पूर्व में इस वर्ष माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाया जा रहा था, जिसे समाप्त करते हुए अब पुनः गत वर्ष की भांति कंटेनमेंट जोन बनाया जा रहा है और उससे संबंधित सरकारी दिशा-निर्देशों का पालन किया जाना है। कहा कि यदि एक गांव में कई मामले हो तो पूरे गांव को कंटेनमेंट जोन बनाते हुए सील किया जा सकता है। बांस-बल्ली से घेराबंदी करते ही लोग सावधान होकर परहेज करने लगते हैं। ताकि कोरोना संक्रमण को बढ़ावा नहीं मिले।

खबरें और भी हैं...