महिला दिवस पर मार खा रही महिला:प्रिंसिपल पति ने क्लर्क पत्नी को बेरहमी से पीटा, डर के मारे रात भर दूसरे के घर में ली शरण

खगड़िया9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मौके पर पहुंची पुलिस। - Dainik Bhaskar
मौके पर पहुंची पुलिस।
  • घटना खगड़िया के नगर थाना क्षेत्र स्थित जयप्रकाश नगर की है
  • महिला ने पुलिस से अपने पति पर कार्रवाई करने की मांग की है

पूरी दुनिया आज महिलाओं के सम्मान में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मना रही है। पुरुष और महिला में बराबरी की बातें कही जा रही हैं, लेकिन खगड़िया के नगर थाना क्षेत्र स्थित जयप्रकाश नगर में प्रिंसिपल पति ने क्लर्क पत्नी को घर में बंद कर बेरहमी से पीटा। डर के मारे पत्नी रात भर दूसरे के घर में रही। रविवार सुबह जब वह आई तो पति ने बंधक बनाकर कमरे में बंद कर दिया। इसके बाद महिला ने किसी तरह पुलिस को इस बात की सूचना दी। सूचना मिलते ही पुलिस वहां पहुंची और महिला को कमरे से बाहर निकाला। पीड़ित महिला रेणु कुमारी सदर अनुमंडल कार्यालय में क्लर्क हैं, जबकि पति अरुण कुमार बेलदौर प्रखंड के मध्य विद्यालय रोहियामा में प्रिंसिपल है।

प्रिंसिपल ने कहा- बेटे ने अपनी मां को किया घर में बंद

इधर, महिला को छुड़ाने के लिए जब पुलिस उसके घर पहुंची तो उसका पति वहीं मौजूद था। एक पुलिसकर्मी ने अरुण कुमार को कमरा खोलने के लिए कहा तो उसने बताया कि उसके बेटा अपनी मां को घर में बंद कर कहीं चला गया है और चाबी भी उसी के पास है। इसके बाद पुलिस उसके बेटे के आने का इंतजार करती रही है। एक घंटे बाद जब उसका बेटा नहीं आया तो पुलिस ने अरुण कुमार को जमकर फटकार लगाई और हिरासत में लेने की बात कही। डर के मारे अरुण कुमार ने चाबी पुलिस को दे दी। इसके बाद पुलिस ने महिला को कमरे से बाहर निकाला।

महिला के पति को समझाती पुलिस।
महिला के पति को समझाती पुलिस।

महिला ने अपने पति पर कार्रवाई की मांग की

रेणु देवी ने बताया कि शनिवार को मामूली बात पर उसके पति बकझक करने लगे। विरोध किया तो पति ने जमकर पिटाई कर दी। डर के मारे रात भर दूसरे के घर में रही। रविवार सुबह जैसे ही घर पहुंची तो पति ने मुझे घर में बंद कर ताला लगा दिया। घंटों तक कमरा नहीं खुला तो अनुमंडल पदाधिकारी समेत अन्य पुलिस पदाधिकारी से मदद की गुहार लगाई। इसके बाद पुलिस आई और मुझे बाहर निकाला। महिला ने पुलिस ने अपने पति पर कार्रवाई करने की मांग की है। कहा कि पूर्व में पति खिलाफ शिकायत कर चुकी हूं लेकिन अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। नगर थानाध्यक्ष रामस्वार्थ ने बताया कि पति-पत्नी का मामला है। हमलोग चाहते हैं कि मामले का निपटारा हो जाए।