मौसम:आंधी-बारिश में कई घरों के छप्पर उड़े, पोल गिरा

खगड़िया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तेज आंधी से बेलदौर में धराशाई झोपड़ी। - Dainik Bhaskar
तेज आंधी से बेलदौर में धराशाई झोपड़ी।
  • आंधी में बिजली का पोल गिरने से दो घंटे तक गुल रही बत्ती, लोगों को हुई परेशानी

सोमवार की शाम जिले में तेज आंधी और बारिश आने के दौरान शहरी क्षेत्र की बिजली सप्लाई ठप हो गई। शहरी क्षेत्र के अलावा ग्रामीण इलाकों में भी बिजली सप्लाई प्रभावित हुई। इससे लोगों को बिजली बिना ही रहना पड़ा। जिससे लाेगाें का जनजीवन प्रभावित हाे गया। सोमवार की शाम करीब 8 बजे तेज हवा के साथ बारिश शुरू हुई। बिजली सप्लाई रूट के तार में खराबी आने के वजह से क्षेत्र में बिजली सप्लाई ठप हो गई। हालांकि बाद में बारिश बंद होने और हवा कम होने के बाद तकनीकी खराबी को दूर किया जा सका। इधर, मानसी प्रखंड सब-स्टेशन क्षेत्र के विभिन्न गांवों में भी तेज हवा चलने व बारिश होने के कारण बिजली सप्लाई रूट में फाॅल्ट आने से करीब दो घंटे तक बलहा, सैदपुर, मानसी, ठाठा, गढ़िया व अन्य क्षेत्र की बिजली आंख मिचौली करती रही।

बेलदौर में लोगों के फूस और झोपड़ी क्षतिग्रस्त होकर धरासाई हो गया
बेलदौर| प्रखंड के अलग-अलग इलाके में बीते सोमवार की रात तेज हवाओं के साथ मूसलाधार बारिश ने कई जगहों पर तबाही बनकर आई। आंधी और बारिश से अलग-अलग गांव में घरों के ऊपर लगा एलवेस्टर तेज आंधी में उड़ गया। वहीं कई जगह बिजली को पोल जमीन पर गिर गया। ज्ञात हो तेज आंधी में बलेठा, चोढ़ली, दिघोन, इतमादी पंचायत के अलावा अन्य पंचायतों के अलग-अलग गांव में काफी नुकसान की बात सामने आ रही है। जिसमें वार्ड नम्बर 12 मुनीटोल पचाैठ गांव में रामचंद्र मुनि, जोगेंद्र मुनि, रामरूप मुनि सहित एक दर्जन से अधिक लोगों के फूस और झोपड़ी क्षतिग्रस्त होकर धरासाई हो गया। वहीं, वार्ड-3 में शमशाद आलम, मोहम्मद बाबर, मोहम्मद सज्जाद के अलावा आधे दर्जन लोगों के घराें के ऊपर लगे चदरा उड़ गया। जबकि तेज आंधी में बल्थी बासा गांव 33 हजार केवी का 4 पोल भी क्षतिग्रस्त हो गया। इसके अलावा बिशनपुर, पिरनगरा, कंजरी बेला गांव के अलावा अन्य जगह पर 2 दर्जन पोल तेज आंधी के वजह से जमींदोज हो गया। जिसके कारण सोमवार आधी रात से ही इलाके में बिजली गुल है। जबकि बिजली कर्मी क्षतिग्रस्त पोल के मरम्मत में जुटे हुए हैं।

खबरें और भी हैं...