पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

परेशानी:वार्डों में नल जल योजना फ्लॉप, नहीं मिल रहा पानी

खगड़िया10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • बलहा पंचायत के वार्ड 5 में शोभा और 6 में सिर्फ सपना बनकर रह गई नल जल योजना की टंकी

मानसी प्रखंड के बलहा पंचायत में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की महत्वाकांक्षी योजना में शुमार हर घर नल का जल योजना करोड़ों रुपए खर्च होने के बाद भी धरातल पर फ्लॉप साबित होकर रह गई है। सरकारी अधिकारियों एवं कर्मियों की मिलीभगत से प्रतिनिधियों एवं ठेकेदार ने पंचायत में हर घर नल का जल योजना में सरकारी राशि की लूट-खसोट एवं बंदरबांट करने में कोई कसर बांकी नहीं रखा है। पानी की तरह करोड़ों रुपए बहने के बाद भी बलहा पंचायत में हर घर नल का जल योजना अधिकारियों, कर्मियों, प्रतिनिधियों एवं ठेकेदार की लूट-खसोट संस्कृति के कारण जमीन पर दम तोड़ती हुई नजर पड़ रही है। किसी भी वार्ड में महज दिखाने के लिए नल जल योजना का उद्घाटन किया गया या चालू किया गया उसमें से भी नियमित रूप से लोगों के घरों में पानी की आपूर्ति नहीं हो रही है। कहीं पानी घर नहीं बना है तो कहीं टंकी नहीं लगी है। कहीं पाइपलाइन नहीं हुआ तो कहीं की गई पाइपलाइन पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए हैं। कई वार्डों में संपूर्ण लोगों के घरों तक नल जल योजना को नहीं पहुंचाया गया है और कोरोना की आर में संवेदक गायब हैं। वार्ड 5, 6, 11 और 12 में पूरी तरह से बाधित है जलापूर्ति बलहा पंचायत के वार्ड संख्या 5 और 6 में नल जल योजना का कार्य आधा-अधूरा पड़ा हुआ है। जिसे यहां पूरी तरह से जलापूर्ति थप है। वार्ड 6 में अबतक टंकी भी नहीं लगाया जा सका है। वार्ड 5 में बिछाई गई पाइपलाइन नाला निर्माण कार्य में पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो चुका है। जबकि वार्ड 10, 11, 12 में भी नल जल योजना का हाल काफी खराब है। कई जगह संचालित टंकी में भी बिजली की समस्या से नियमित रूप से पानी की आपूर्ति नहीं हो रही है। अधिकारी व पंचायत प्रतिनिधि चाहे लाख दावा करें लेकिन जमीनी सच्चाई यही है कि पूरे बलहा पंचायत में किसी न किसी गड़बड़ी के कारण नल जल योजना सफल नहीं हो सका है। बता दें सरकार एवं अधिकारियों का अधूरे पड़े नल जल योजना को पूरा करने और हर हाल में सभी नल जल योजना से लोगों के घरों तक पानी की आपूर्ति करने का कई समय-सीमा व फरमान समाप्त हो चुका है। बावजूद धरातल पर योजना कही सिर्फ शोभा की वस्तु तो कही सिर्फ सपना बनकर रह गया है।

खबरें और भी हैं...