पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कार्रवाई:‘जिस मामले में कोर्ट में हो चुकी है सुलह उसी में गिरफ्तार करने पुलिस आती है’

खगड़िया8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • गर्ल्स छात्रावास में बगैर महिला पुलिस के पहुंचने पर बोले डॉ. विवेकानंद

श्यामलाल चंद्र शेखर नर्सिंग स्कूल और उसके छात्रावास में बगैर महिला पुलिस को लिए ही पहुंचने का मामला अब गहराने लगा है। संस्थान के निदेशक सह डॉ. विवेकानंद ने नगर थाना पुलिस पर हमला बोलते हुए प्रेस बयान जारी किया है कि जिस मामले में वादी का उनके साथ कोर्ट में सुलह हो चुका है उस मामले में पुलिस उन्हें रात में खोजने के लिए आती है। वह भी ऐसी जगह जहां सिर्फ लड़कियां रहती हैं।

उन्होंने कहा कि वे दिन के उजाले में गिरफ्तारी देने को तैयार हैं तो रात के अंधेरे में पुलिस उन्हें क्यों खोजने जाती है। उन्होंने नगर थाना पुलिस पर गलत ढ़ंग से कार्रवाई किये जाने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि पुलिस को यह मालूम होना चाहिए जहां छापेमारी करने के लिए जवानों को लेकर जाया जा रहा है वहां केवल लड़कियां रहती है। ऐसे में वहां महिला पुलिस को लेकर जाना चाहिए। लेकिन पुलिस ने ऐसा नहीं किया।

पुलिस की कार्रवाई से छात्राएं भयभीत
पुलिस द्वारा किये गए इस घटना के बाद नर्सिंग स्कूल की छात्राएं काफी डरी हुई है। नियम के मुताबिक पुलिस को यहां छापेमारी करने से पहले कॉलेज के प्रिंसिपल से आदेश लेना चाहिए था। सारी घटनाएं सीसीटीवी में कैद हो गई है।

जिसे वे कोर्ट के समक्ष रखेंगे। मामले में एसपी से भी हस्तक्षेप की मांग की है। वहीं नगर थानाध्यक्ष राम स्वार्थ पासवान ने बताया कि चुनाव के समय गिरफ्तारी का प्रेशर रहता है। उन्होंने यह भी माना कि सुलहनामा के आधार पर ही उनके भाई इंजीनियर धर्मेंद्र को जमानत मिली है।

खबरें और भी हैं...