पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

झमाझम बरसेे मेघ:बारिश ने जून में तोड़ा पिछले 10 साल का रिकाॅर्ड 234 मिमी बारिश, 24 घंटे में ठनका से 3 की मौत

खगड़ियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • तेज हवा और गरज के साथ जिले में हुई 23 एमएम बारिश, माैसम विभाग ने जून माह में 186.2 मिलीमीटर बारिश होने की जताई थी संभावना
  • उत्तरी बिहार और नेपाल की तराई में लगातार बारिश से नदियों के जलस्तर में होगी बढ़ोत्तरी
Advertisement
Advertisement

जिले में लगातार हो रहे बारिश से जून माह में सबसे अधिक बारिश होने का पिछले 10 वर्षों का रिकार्ड टूट गया है और अगले पांच दिनों तक जिले में भारी बारिश की संभावना बनी हुई है। बताते चलें कि गत 13 जून को मानसून के दस्तक के बाद लगातार बारिश हो रही है। जबकि जिले में पांच दिनों तक पारा चढ़ने के बाद एक बार फिर से मानसून के लौटने से मौसम का मिजाज बदला बदला सा है। गुरुवार की सुबह से ही आसमान में बादल छाए रहने और गरज के साथ हो रहे बारिश से मौसम सुहावना तो हो ही गया है। अब बारिश के कारण जगह-जगह जलजमाव की समस्या भी उत्पन्न हो गई है।

मौसम विभाग अगले पांच दिनों तक तेज हवा और गरज के साथ तेज भारी बारिश की संभावना बनी हुई है।  बताते चलें कि गुरुवार को बारिश के साथ व्रजपात से जिले में 3 महिलाओं की मौत हो गई थी और 8 बच्चे भी झुलस गए थे। जबकि करीब डेढ़ दर्जन बकरियां भी झुलस कर मर गई थी  कृषि विज्ञान केंद्र से मिली जानकारी के अनुसार 30 जून तक लगातार भारी बारिश होने का पूर्वानुमान है। जिसमें सबसे अधिक बारिश 27 और 28 जून को अनुमानित है। बताते चलें कि इस बार पूरे जून माह में रुक-रुक कर बारिश होती रही है। जून माह में अब तक 233.91 एमएम बारिश हो चुकी है। जो जून माह का जिले में सामान्य औसत वर्षापात 186.2 एमएम से 47.71 एमएम ज्यादा है।

तथा जून माह में पिछले 10 वर्षों में सबसे अधिक वर्षापात का रिकार्ड है। जबकि माह के अंत तक भारी बारिश की संभावना बनी हुई है। कृषि वैज्ञानिक डॉ पूजा कुमारी ने बताया कि अब तक 233.91 एमएम औसत बारिश खगड़िया में हो चुकी है। जून माह में 186.2 एमएम बारिश हाेने का अनुमान था। उन्होंने बताया कि माह के अंत तक और तेज बारिश होने की संभावना है।

 तेज आंधी और बिजली की आशंका, आज 23 मिमी होगी बारिश

मौसम विभाग ने अलर्ट जारी करते हुए कहा है कि इस बार बारिश में अधिक सतर्क रहने की जरूरत है। बारिश के साथ ही तेज आंधी और जगह जगह वज्रपात होने की भी आशंका है। किसान भाई किसी भी फसल की सिंचाई नहीं करें और ना ही रसायन का छिड़काव करें। जिन किसानों का धान का बिचड़ा तैयार हो चुका है वे धान रोपनी के लिए खेतों को तैयार करें। इधर, डीएम आलोक रंजन घोष ने भी भारी बारिश और वज्रपात को लेकर जिले में अलर्ट जारी कर लोगों को सुरक्षित रहने की सलाह दी है। मौसम विभाग के अनुसार शुक्रवार को जिले में औसतन 23 एमएम बारिश होने का अनुमान है। हालांकि शुक्रवार को हुए बारिश से कहीं भी जान माल के नुकसान की खबर नहीं है।  

बारिश को लेकर तटवर्ती इलाकों में किया अलर्ट
नेपाल के पोखरा और भैरवां के साथ पहाड़ी क्षेत्रों में हो रहे भारी बारिश और हिमपात से नेपाल बराज लबालब है। नेपाल के तराई इलाके में हो रहे भारी बारिश से जिले में बागमती के साथ साथ गंडक नदी के जलस्तर में भी अब तेजी से वृद्धि हो सकती है। जबकि जिले में भारी बारिश भी हो रही है और अगले पांच दिनों तक तेज बारिश के संकेत हैं। जिले में हो रही मुसलाधार बारिश से रेनकट के चलते बांधों पर भी खतरा मंडराने लगा है।

सुरक्षा को लेकर जिला आपदा प्रबंधन विभाग ने ग्रामीणों और अधिकारियों को अलर्ट कर दिया है तथा सभी तटबंधों पर चौकसी बढ़ा दी गई है। हालांकि फिलहाल तटबंधों पर कोई खतरा नहीं है लेकिन हो रही तेज बारिश मुश्किलें बढ़ा सकती है। बताया जाता है कि नेपाल के द्वारा बाल्मिकीनगर डैम से गंडक में लगातार पानी डिस्चार्ज किया। 

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर कोई विवादित भूमि संबंधी परेशानी चल रही है, तो आज किसी की मध्यस्थता द्वारा हल मिलने की पूरी संभावना है। अपने व्यवहार को सकारात्मक व सहयोगात्मक बनाकर रखें। परिवार व समाज में आपकी मान प्रतिष...

और पढ़ें

Advertisement