पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

खाकी दागदार:गिरफ्तारी के बदले घूस लेकर आरोपी को छोड़ा चौकीदार सस्पेंड, एसआई पर कार्रवाई नहीं

खगड़िया9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • मारपीट और छिनतई के आराेपी सरपंच के भैंसुर ने दी थी रिश्वत
  • एसआई हरेंद्र मांझी दुकान पर चाय की चुस्की ले रहे थे और चौकीदार छट्ठू राम को रुपए लेने भेजा, लोगों ने बनाया वीडियो, रिपोर्टर के सवाल पर एसआई ने अकेले में मिलने के लिए बुलाया

एक बार फिर खाकी को दागदार करने वाली तस्वीर सामने आई है। मानसी थाने का एसआई हरेंद्र मांझी और चौकीदार छट्ठू राम दो हजार रुपए घूस लेकर मारपीट और छिनतई मामले के आरोपी को छोड़ दिया। जबकि आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेजना था। यह घूस लेने का खेल मानसी स्टेशन परिसर में चला। वहां मौजूद एक ग्रामीण ने इसका वीडियो बना लिया। जब एसपी के संज्ञान में मामला आया तो उन्होंने तुरंत मामले की जांच शुरू कर दी और चौकीदार को तत्काल सस्पेंड कर दिया। लेकिन एसआई पर कोई कार्रवाई न होना पड़े से बाहर है। दरअसल वीडियो में खुटिया निवासी मानसी थाना कांड संख्या 96/21 के आरोपी राजाराम यादव चौकीदार को रुपए देते नजर आ रहे हैं। वहीं शिव मंदिर के पास बैठे एसआई हरेंद्र मांझी चाय की चुस्की ले रहे हैं। राजाराम यादव पर अपनी भावो सह खुटिया पंचायत की सरपंच गीता देवी के साथ मारपीट, छिनतई सहित कई धाराओं में मामले दर्ज हैं। जिस कांड का आईओ हरेंद्र माझी है। जबकि चौकीदार छट्ठू राम चुकहुसैनी का है। मानसी थाने में पदस्थापित एसआई हरेंद्र मांझी ने बताया कि वे लोग अक्सर जंक्शन के पास पिंटू के दुकान पर बैठकर चाय पीते हैं। जब उन्हें घटना के संबंध में पूछा गया तो पहले उन्होंने घटना संबंधित किसी तहर की जानकारी नहीं रहने की बात कही। फिर घटना का वीडियो उपलब्ध रहने की बात पर उन्होंने कहा हां राजाराम से मिले थे। लेकिन हमने कुछ नहीं लिया। फिर जब उन्हें बताया गया कि चौकीदार ने उनको रुपए देने की बात कही है तो एसआई ने रिपोर्टर को अकेले में मिलने के लिए बुलाया।

पछतावा: साहब की बात न मान कर थाने चले जाते तो सस्पेंड नहीं होते
चौकीदार छट्ठु राम ने बताया कि हम उस रास्ते से थाने जा रहे थे। पहले से राजाराम और मांझी सर चाय दुकान पर बैठकर बात कर रहे थे। मांझी सर ने मुझे बुलाया तो हम वहां चले गए। साहब ने राजाराम से कुछ बात करने बोला। हमलोग उस जगह से थोड़ा हट गए। उसके बाद राजाराम मेरे हाथ में जो दिया मैने मांझी सर को दे दिया। कितना था हमको नहीं पता। फिर राजाराम और मांझी सर बातचीत करने लगे। मैं अगर मांझी सर की बात नहीं मान थाना चला गया होता तो मुझे सस्पेंड नहीं होना पड़ता।

मामले के आरोपी राजाराम यादव ने स्वीकारा बच्चे का नाम हटाने के लिए दिए 2 हजार रुपए
मामले में खुटिया निवासी राजाराम यादव ने बताया कि जमीनी विवाद को लेकर झगड़ा हुआ था। जिसको लेकर मानसी थाना में कांड संख्या 96/21दर्ज किया गया है। जिसमें बच्चों को भी नामजद कर दिया गया। 2 अप्रैल को आईओ से मुलाकात कर बच्चों का नाम हटाने का अनुरोध किया। इसके बाद बच्चे का नाम हटाने के एवज में केस आईओ ने चौकीदार के माध्यम से दो हजार रुपए लिए। जिसके बाद केस आईओ ने इंस्पेक्टर साहब से मिलने की बात कही। ताकि बच्चे का नाम हटाया जा सके।

चौकीदार दोषी दिख रहा है, एसआई की भूमिका संदिग्ध, जांच की जाएगी
फिलवख्त चौकीदार दोषी दिख रहा है। इसलिए सस्पेंड किया गया है। जबकि विभागीय कार्रवाई की अनुशंसा डीएम को भेजी जा रही है। हरेंद्र मांझी की भूमिका भी संदिग्ध है। जांच का जिम्मा डीएसपी मुख्यालय को दिया गया है। जो भी रिपोर्ट आएगा उसके अनुसार दोषी लोगों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।
अमितेश कुमार, एसपी, खगड़िया

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज मार्केटिंग अथवा मीडिया से संबंधित कोई महत्वपूर्ण जानकारी मिल सकती है, जो आपकी आर्थिक स्थिति के लिए बहुत उपयोगी साबित होगी। किसी भी फोन कॉल को नजरअंदाज ना करें। आपके अधिकतर काम सहज और आरामद...

    और पढ़ें