पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

प्रशिक्षण कार्यक्रम:10 किसानों मिलेंगे 12 हजार केले के पौधे

जलालगढ़20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बायोटेक किसान हब परियोजना के अंतर्गत केला उत्पादक किसानों को उत्तक संवर्धन केला जी- 9 विषय पर एक दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया। बायोटेक परियोजना के अंतर्गत पूर्णिया जिले के हरदा प्रखंड स्थित कवैया गांव के 10 किसानों का चयन किया गया है। जिन्हें जल्द ही उत्तक संवर्धन केला जी- 9 का 12000 पौधा 10 एकड़ के लिए दिया जाएगा। पौधा उपलब्ध करवाने से पहले कृषि वैज्ञानिकों द्वारा किसानों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

प्रशिक्षण कार्यक्रम में बुधवार को भोला पासवान शास्त्री महाविद्यालय के उद्यान वैज्ञानिक सूरज प्रकाश ने किसानों को केले की लगाने की विधि बतायी। उन्होंने किसानों को प्रशिक्षण देते हुए बताया की 2 मीटर की दूरी खेत में केले के जी 9 प्रभेद लगाने में 12,00 पौधे प्रति एकड़ लगते हैं। इसमें यूरिया एव पोटास की अनुशंसित मात्रा 300 एवं 400 ग्राम प्रति पौधे कि दूर से 5 बराबर भागों में बांटकर क्रमशः 30,75,110,155 व 210 दिनों में डालें। जिससे केले की उत्पादकता बढ़कर 60 टन प्रति हेक्टेयर हो जाती है। साथ ही साथ गलवा रोक के प्रकोप से निजात पाने के लिए ट्राइकोडरमा बिरिडे का प्रयोग निरंतर करते रहें। साथ ही केले के भ्रिंग रोग की रोकथाम के लिए पॉलिप्रोपिलीन बैग का इस्तेमाल जरूर ही करें।

वहीं केंद्र की वरीय वैज्ञानिक सह प्रधान डॉ सीमा कुमारी ने बताया कि किसानों को किसी भी प्रकार की दुविधा ना हो इसीलिए हम जल्द ही उन्हें जरूरी उर्वरक भी उपलब्ध करवा देंगे। उन्होंने कहा कि किसान बंधु इस परियोजना संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए यंग प्रोफेशनल साधना कुमारी व अनुनय कुमार से ले सकते हैं। प्रशिक्ष्ण में हरदा ,कसबा व जलालगढ़ के करीब 40 किसानों ने हिस्सा लिया।

खबरें और भी हैं...