गाइडलाइन कर करें पालन:जिले में 30 नए पॉजिटिव मिले, रात आठ बजे ही बाजार में पसरा सन्नाटा

किशनगंज14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
शहर का मुख्य बाजार गांधी चौक और अस्पताल रोड गुरुवार की शाम 08:30 बजे हो गया वीरान। - Dainik Bhaskar
शहर का मुख्य बाजार गांधी चौक और अस्पताल रोड गुरुवार की शाम 08:30 बजे हो गया वीरान।
  • जिला प्रशासन ने कोरोना को ले शुरू किया रोको टोको अभियान

जिले में कोरोना का संक्रमण अब खतरनाक तरीके से बढ़ने लगा है। पिछले 24 घंटे में 30 नए मरीज सामने आए हैं। इस तरह अब जिले में संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 75 हो गई है। सर्वाधिक मरीज शहरी क्षेत्र के हैं। संक्रमण की रफ्तार तेज होने के बावजूद स्टेशन और बस स्टैंड में बाहर से आ रहे यात्रियों की जांच शुरू नहीं हो पाई है। प्रशासन का वैक्सीनेशन पर जोर है। इसके साथ ही प्रशासन रोको टोको अभियान चला रही है। मकसद लोगों को जागरूक करना और उन्हें कोविड प्रोटोकॉल का पालन कराने के लिए प्रेरित करना है। जगह-जगह पुलिस मास्क चेकिंग अभियान भी चला रही है। माइकिंग कर दुकानदारों को प्रोटोकॉल का पालन करने का निर्देश दिया जा रहा है। दूसरी ओर गुरुवार को कोरोना को लेकर प्रशासन द्वारा जारी निर्देश व दुकानों की समयसीमा लागू हो गई। शाम आठ बजे तक अपवाद छोड़कर सभी दुकानें स्वत: ही बंद हो गई। अन्य दिनों में रात दस बजे के बाद तक गुलजार रहनेवाला गांधी चौक गुरुवार की शाम आठ बजे ही वीरान हो गया। मुख्य बाजार में भी सन्नाटा पसरा दिखा। इक्का दुक्का लोग ही सड़क पर नजर आए।
नहीं माने लोग तो बढ़ाई जाएगी सख्ती
एसडीएम शहनवाज़ अहमद नियाजी ने कहा कि फिलहाल लोगों से अनुरोध किया जा रहा है। अगर लोग नहीं माने तो जिला प्रशासन सख्ती बरतने पर मजबूर हो जाएगी। किसी को भी समाज के लिए खतरा पैदा करने की छूट नहीं मिलेगी। जिला पदाधिकारी स्वयं सभी चीजों पर नजर रख रहे हैं। इसके लिए जिला पदाधिकारी के द्वारा गाइडलाइन भी जारी किया गया है। डीएम डॉ. आदित्य प्रकाश ने लोगों से अपील किया कि जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग को संक्रमण से जंग में सहयोग दें। सरकार एवं जिला प्रशासन के द्वारा जारी गाइडलाइन का पालन करें। जिला पदाधिकारी ने कहा कि संक्रमण पर जीत के लिए जिले के एक एक आदमी को कोविड वेक्सीन का दूसरा डोज लेना अनिवार्य है। लोगों से अपील करते हुए उन्होंने कहा कि एक छोटी सी लापरवाही भारी पर सकती है। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को भी टेस्टिंग और वेक्सीनेशन में गति लाने का निर्देश दिया।

मास्क नहीं लगाने वाले लोगों पर करें कार्रवाई
जिले में संक्रमण पर रोकथाम के लिए मास्क चेकिंग अभियान को तेज गति देने के लिए रोको-टोको अभियान शुरू किया गया है। अभियान के तहत जिले में मुख्य बाजार समेत विभिन्न चौक-चौराहे पर अभियान चलाकर मास्क का उपयोग नहीं करने वाले लोगों को मास्क का उपयोग करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। ताकि संक्रमण की रफ्तार को रोका जा सके। सामाजिक दूरी भी मेंटेन करने की अपील राहगीरों से किया गया। कोई भी लोग अगर मास्क नहीं लगाते हैं तो उनपर कार्रवाई भी करें।

नए वैरिएंट से बचाव के लिए जिला प्रशासन तैयार
जिलाधिकारी आदित्य प्रकाश ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को नए वैरियंट के लिए सभी आवश्यक तैयारी पूरा करने का निर्देश दिया है। ओमिक्रॉन से निपटने के लिए सदर अस्पताल में ऑक्सीजनयुक्त 63 बेड की व्यवस्था कर ली गई है। महेशबथना स्थित कोविड केयर सेंटर में लगभग 93 बेड तथा महिला आईटीआई स्थित डेडीकेटेड कोविड सेंटर में 220 बेड, प्रत्येक पीएचसी में 10 एवं सीएचसी में 20 बेड उपलब्ध हैं। सदर अस्पताल में सभी बेड को ऑक्सीजन सप्लाई के लिए पाइपलाइन से जोड़ दिया गया है। स्वास्थ्य विभाग के सभी अधिकारी एवं कर्मचारियों के साथ हीं नर्स, पारा मेडिकल स्टाफ की छुट्टी रद्द कर दी गई है।

सार्वजनिक जगहों पर जांच कोविड जांच जरूरी
सीमावर्ती जिला होने के कारण बंगाल सहित जिले के हजारों लोग अन्य प्रदेश में काम करते हैं। इनके आने जाने का रेल रूट किशनगंज स्टेशन ही है। यहां प्रतिदिन सैंकड़ों की संख्या में अन्य प्रदेश से लोग अपने घर लौटते हैं। इसलिए स्टेशन पर जांच की सुविधा बढ़ाना आवश्यक है। स्टेशन मास्टर दीपक कुमार ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग जब भी मदद मांगेगी, रेल प्रशासन हर संभव मदद को तैयार है। लोगों का बड़ा समूह बस रूट से भी यात्रा करते हैं। यहां भी टेस्टिंग प्वाइंट बनाए जाने की जरूरत लोग महसूस कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...