बदहाली:49 लाख से बना एपीएचसी, आज तक नहीं हुआ मरीजों का इलाज

टेढ़ागाछ6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बेणुगढ़ का अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र जहां पशुओं का रहता जमावड़ा। - Dainik Bhaskar
बेणुगढ़ का अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र जहां पशुओं का रहता जमावड़ा।
  • बेणुगढ़ में बना अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भूतबंगला में तब्दील
  • लोगों ने की स्वास्थ्य विभाग से सुविधा बहाल करने की मांग

टेढ़ागाछ प्रखंड अंतर्गत डाकपोखर पंचायत स्थित बेणुगढ़ में बना अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भूतबंगला में तब्दील हो गया है। गौरतलब है कि सरकार इस तरह के भवनों के निर्माण में लाखों खर्च कर रही है। लेकिन भवन निर्माण के ऐवज में जमीन मलिकों को कोई मुआवजा भी सरकार नहीं देती है और न ही लोगों को स्वास्थ्य सेवा दे पा रही है। यहां तक कि सरकार भवन निर्माण के बाद इससे ध्यान भी हटा लेती है। ऐसे में लोग सवाल खड़ा कर रहे है कि जब सरकार आवाम को स्वास्थ्य सेवा इन अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में नहीं दे सकती है तो फिर क्यों लोगों को गुमराह कर अस्पताल के नाम पर मुफ्त में उनकी निजी जमीन दान में लेकर उसे बर्बाद कर रही है। जानकारी के अनुसार वित्तीय वर्ष 2011-12 में अल्पसंख्यक बहुक्षेत्रीय विकास योजना अंतर्गत स्वीकृत अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र भवन डाकपोखर (टेढ़ागाछ)का निर्माण कार्य एजेंसी द्वारा प्राक्कलित राशि 49 लाख 76 हजार की लागत से हुई थी लेकिन आज तक इस भवन में किसी मरीज का इलाज नहीं हुआ और न ही यहां कोई डॉक्टर, नर्स व स्वास्थ्य कर्मियों का पदस्थापना की गई। स्थानीय लोगों को स्वास्थ्य उपचार कराने में भारी परेशानी हो रही है। डाकपोखर काफी सुदूरवर्ती देहाती क्षेत्र में है। यहा से प्रखंड मुख्यालय की दूरी लगभग 12 किलोमीटर एवं जिला मुख्यालय की दूरी लगभग 35 किलोमीटर है। लोगों को इलाज के लिए पूर्णिया ले जाना ही बेहतर समझा जाता है। पूर्णिया ले जाने आने में भारी परेशानी का सामना करना पड़ता है। स्थानीय ग्रामीणों में पूर्व मुखिया करुणा दास, गोवर्धन दास, पन्ना लाल दास सहित दर्जनों लोगों ने जिला पदाधिकारी का ध्यान आकृष्ट करते हुए बेणूगढ़ में स्वास्थ्य सेवा मुहैया कराने की मांग की है।

खबरें और भी हैं...