पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

काम में सुस्ती:पुल बनकर तैयार, एप्रोच पथ नहीं बना, डायवर्सन से यात्रा

किशनगंज13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बिना एप्रोच पथ के किशनगंज-बहादुरगंज रोड पर बनकर तैयार भेड़ियाडांगी पुल।
  • किशनगंज-बहादुरगंज पथ में 5 प्रखंड के लोग प्रभावित
  • अधिकारी ने कहा-बाढ़ आने के कारण मिट्‌टी नहीं मिलने से रुक गया काम

तीन वर्ष बीत जाने के बाद भी जिले के पांच प्रखण्ड के लोगों का जिला मुख्यालय तक डायवर्सन के सहारे ही पहुंच रहे हैं। किशनगंज-बहादुरगंज पथ पर ब्लॉक चौक भेड़ियाडंगी के पास 2017 में 60 मीटर पक्की सड़क बाढ़ की पानी के दबाव में बह गई थी। काफी जद्दोजहद के बाद पांच स्पेन का 80 मीटर लंबा पुल तो बना लेकिन एप्रोच पथ नहीं बनने के कारण आज भी पुल से आवागमन बाधित है। किशनगंज-बहादुरगंज पथ जिले की अति महत्वपूर्ण सड़क है। 2017 में आई विनाशकारी जल प्रलय में 327 ई एनएच पर बना मिरभिट्ठा पुल ध्वस्त हो जाने के बाद जिले से निकलने के लिए एकमात्र इसी सड़क पर लोगों की नजरें टिक गई थी। इस पथ पर भी भेड़ियाडंगी के पास सड़क बहने के कारण जिला प्रशासन ने आनन-फानन में डायवर्सन बनाकर आवागमन बहाल किया था ताकि पांच प्रखण्ड के लोग इस रास्ते से जिला मुख्यालय तक आ और जा सके। तब से आज तक डायवर्सन के सहारे ही लोगों का आवागमन हो रहा है। इस बार भी बरसात में डायवर्सन के सहारे ही लोगों को आवागमन करना होगा। निर्माण एजेंसी का कहना है कि बरसात में मिट्टी नहीं मिलने के कारण एप्रोच पथ नहीं बन पा रहा है।

जून 2018 में ही पुल बनाने की थी डेडलाइन
किशनगंज बहादुरगंज पथ पर निर्माणाधीन पुल के बनने के लिए जून 2018 तक का डेडलाइन विभाग के द्वारा निर्धारित किया गया था, लेकिन डेडलाइन को बीते दो वर्ष से अधिक हो गए। पुल पर आवागमन आज भी बहाल नहीं हो पाया है। विभाग की मानें तो इस वर्ष दिसंबर तक पुल से आवागमन शुरू हो सकेगा।
छह करोड़ की लागत से बना बिना एप्रोच का पुल
कोचाधामन विधायक मोजाहिद आलम ने सरकार से अनुरोध कर पुल निर्माण की स्वीकृति दिलाई थी। जिला प्रशासन के द्वारा एस्टीमेट बनाकर भेजा गया। फिर इसके लिए टेंडर किया गया। टेंडर जिस एजेंसी को मिला वह काफी देर से कार्य प्रारंभ किया। कार्य में लापरवाही बरतने के कारण पुल निर्माण निगम ने विभाग से शिकायत की। इसकी भनक लगते ही संवेदक ने काम छोड़ दिया। विभाग ने इस एजेंसी को काली सूची में डाल दिया। उसके बाद एक बार फिर नए संवेदक ने निर्माण कार्य शुरू किया।

दिसंबर तक आवागमन के लिए खुलेगा पुल
एप्रोच पथ के लिए काफी मिट्टी की जरूरत है। लेकिन बरसात में सभी जगह पानी भर जाने के कारण मिट्टी नहीं मिल पा रही है। साथ ही कुछ और काम बाकी है। पुल में एक्सटेंशन ज्वाइंट एवं बेरिंग कोट भी लगाया जाना है। लॉकडाउन के कारण भी तय समय पर काम पूरा नहीं हो पाया। दिसंबर तक पुल आवागमन के लिए खोल दिया जाएगा।
विनय कुमार, कार्यपालक अभियंता, पुल निर्माण निगम

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि के लिए ग्रह गोचर बेहतरीन परिस्थितियां तैयार कर रहा है। आप अपने अंदर अद्भुत ऊर्जा व आत्मविश्वास महसूस करेंगे। तथा आपकी कार्य क्षमता में भी इजाफा होगा। युवा वर्ग को भी कोई मन मुताबिक क...

और पढ़ें