पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लापरवाही:28 दिन बाद भी पंपकर्मी मौत मामले में पुलिस के हाथ खाली

किशनगंजएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 9 जून को एसके फ्यूल सेंटर में संदेहास्पद मिला था शव

पेट्रोल पम्प कर्मी कर्मजीत की संदेहास्पद स्थिति में मौत के बाद पेट्रोल पंप संचालक रवींद्र दास की अबतक गिरफ्तारी नहीं हो सकी। पुलिस के सभी दावे अबतक फेल साबित हुए हैं। परिजनों के लिखित शिकायत के बाद भी पम्प संचालक तक पुलिस के हाथ नहीं पहुंच पाई है। साथ ही मामले में दर्ज अन्य नामजद आरोपी खुलेआम घूम रहे हैं। पुलिस की माने तो तलाश जारी है। पुलिस पड़ताल कर रही है कि घटना के समय वहां कौन-कौन था। इसमें कुछ का मोबाइल नंबर भी लिया गया था। पुलिस इस आधार पर भी जांच में जुट गई थी। जांच में एक माह पूर्व मृतक कर्मजीत के गायब होने से लेेकर अन्य कई बिंदुओं पर भी जांच की जा रही थी। एसडीपीओ ने कहा कि मामले में पुलिस की तहकीकात जारी है। खुलासा के बाद ही कुछ स्पष्ट कहा जा सकता है। बता दें कि बीतें 9 जून को किशनगंज बहादुरगंज पथ स्थित ब्लॉक चौक के समीप आरएस फ्यूल सेंटर परिसर में स्टाफ रूम से पेट्रोल पंप कर्मी कर्मजीत सिंह का संदिग्ध परिस्थिति में शव मिला था। मामले में पेट्रोल पंप के मालिक रविन्द्र दास व मैनेजर के विरुद्ध टाउन थाना में मृतक के पिता ने हत्या का मामला दर्ज कराया था।

खबरें और भी हैं...