पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अफवाह:5जी टेस्टिंग से कोरोना संक्रमण के प्रसार की अफवाह गलत

किशनगंजएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सीएस-अफवाह पर ध्यान न दें, गाइडलाइन का पालन करें

कोरोना को लेकर सोशल मीडिया पर पोस्ट वायरल होने के बाद विश्व स्वास्थ्य संगठन ने एक बयान जारी किया है। सोशल मीडिया में कई दिनों से कोरोना की दूसरी लहर का कारण 5जी टेस्टिंग को माना जा रहा है। ऐसे पोस्ट वायरल होने से लोगों में भय है। डब्लूएचओ ने वायरल पोस्ट को तथ्य से परे व अफवाह करार दिया है। सीएस डॉ. श्रीनन्दन ने कहा कि अफवाह पर ध्यान नहीं दें। कोविड गाइडलाइन का अक्षरशः पालन कर संक्रमण से बचा जा सकता है। साबुन और पानी से नियमित हाथ धोने या अल्कोहल युक्त सैनिटाइजर का इस्तेमाल करने, बाहर जाने पर मास्क का इस्तेमाल और शारीरिक दूरी के नियम का पालन महत्वपूर्ण है। इन व्यवहारों के पालन में किसी प्रकार की शिथिलता नहीं बरतें।

संक्रमण का ये है कारण
कोविड संक्रमण का प्रसार कोविड संक्रमित व्यक्ति के बोलने, खांसने व छींकने से निकली ड्रॉपलेट्स के संपर्क में आने से होता है। संक्रमित व्यक्ति द्वारा स्पर्श किए गए सतहों को छूने तथा गंदे हाथ के नाक व मुंह के संपर्क में आने से कोरोना संक्रमण फैलता है।

खबरें और भी हैं...