बच्चों में उत्साह:124 दिन बाद खुले 9वीं-10वीं के स्कूल, पढ़ाई शुरू

किशनगंज3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इंटर हाई स्कूल में शनिवार को संचालित वर्ग नौ की कक्षा। - Dainik Bhaskar
इंटर हाई स्कूल में शनिवार को संचालित वर्ग नौ की कक्षा।
  • निजी स्कूलों में शनिवार को नहीं लगी कक्षाएं, कराई गई साफ-सफाई

नौवीं और दसवीं के छात्र-छात्राओं के लिए शनिवार को 124 दिन बाद स्कूल खुल गए। इस दौरान पहले दिन स्कूलों में इन वर्गों में पचास फीसदी से भी कम उपस्थिति रही। कई माह बाद स्कूल खुलने के बाद बच्चों के बीच उत्साह देखा गया। जिला मुख्यालय में इंटर स्तर के तीन सरकारी स्कूल हैं। स्कूलों के प्रधानाध्यापकों ने नौवीं व दसवीं के छात्र-छात्राओं को रोल नंबर वार एक दिन पूर्व शुक्रवार को ही मैसेज भेज कर स्कूल आने का निर्देश दे दिया था।
गर्ल्स हाई स्कूल की प्राचार्य सुनीता कुमारी ने कहा कि कि 11वीं व 12 वीं की क्लास पूर्व से ही संचालित है। शनिवार से नौंवी व दशमी के लिए भी विद्यालय खुले हैं। सभी छात्राओं को एक दिन पूर्व शुक्रवार को ही न मेसेज भेज दिया गया था। विद्यालय परिसर में मास्क पहनना अनिवार्य किया गया है। नौंवी व दशमी कक्षा के छात्राओ को अलग अलग कमरे में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ बैठने की व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि आठवीं तक का क्लास बन्द रहने के कारण जगह की कोई कमी नहीं है। डीईओ कार्यालय से भी मोनिटरिंग किया जा रहा है।
इंटर हाई स्कूल में नौवीं में 10 व दसवीं में दो छात्र पहुंचे : इंटर हाई स्कूल में शनिवार को नौवीं में दस और दसवीं में महज दो छात्र ही स्कूल पहुंचे। कक्षा का संचालन हुआ। इसके अलावे इंटर में कॉमर्स में 26, कला में 10 व विज्ञान के 10 छात्र स्कूल पहुंचे थे। स्कूल के प्राचार्य परमेश्वर झा की ओर से स्कूल के मुख्य प्रवेश द्वार पर ही थर्मल स्कैनिंग की व्यवस्था की गई है जबकि बिना मास्क के प्रवेध निषेध का नोटिस चस्पा कर दिया गया है। कहा कि बच्चों को स्कूल खुलने की सूचना दी जा चुकी है। साथ ही उनसे अभिभावकों से सहमति पत्र लिखवाकर लाने का निर्देश भी दिया गया है। प्राचार्य के अनुसार सरकारी गाइडलाइन के साथ ही पूरे कोविड प्रोटोकॉल को ध्यान में रखकर कक्षाएं संचालित की जा रही है।
डीपीओ ने किया मुआयना : शनिवार को डीपीओ माध्यमिक शिक्षा माहताब रहमानी ने इंटर हाई स्कूल का मुआयना किया। छात्रों व शिक्षकों की उपस्थिति देखी। यहां 26 शिक्षक पदस्थापित हैं, इनमें से 22 शिक्षक उपस्थित रहे। चार शिक्षक छुट्टी पर हैं।

पहले दिन प्रबंधन ने कराई साफ-सफाई
शनिवार को स्कूल खुलने के बाद भी शहर के निजी स्कूलों में कक्षाएं नहीं लगी। ओरिएंटल पब्लिक स्कूल के पीआरओ आलोक कुमार ने बताया कि कई दिनों से स्कूल बंद रहने के कारण शनिवार और रविवार को स्कूलों की सफाई और सेनिटाइजेशन का कार्य कराया जा रहा है। सोमवार से क्षमता से आधे छात्रों को बुलाया गया है। बताते चलें कि निजी स्कूलों ने फिलहाल एक दिन पचास फीसदी छात्रों को स्कूल बुलाने और दूसरे दिन उन्हें ऑनलाइन पढ़ाने की योजना बनाई है। ताकि कोविड प्रोटोकॉल के साथ बच्चों को शिक्षा दी जा सके।

खबरें और भी हैं...