सफलता:एमजीएम मेडिकल कॉलेज में सर्वाइकल कैंसर के इलाज के बाद घुटना व हिप का हुआ सफल प्रत्यारोपण

किशनगज12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ऑपरेशन करने वाली टीम के साथ निदेशक एमजीएम मेडिकल कॉलेज। - Dainik Bhaskar
ऑपरेशन करने वाली टीम के साथ निदेशक एमजीएम मेडिकल कॉलेज।
  • सितंबर माह में 11 सदस्यीय चिकित्सकों की टीम ने पाई सफलता

पहले सर्वाइकल कैंसर का सटीक इलाज के बाद अब दो मरीजों के घुटना एवं दो मरीजों के हिप का सफल प्रत्यारोपण एमजीएम मेडिकल कॉलेज अस्पताल में हुआ है। कालेज के निदेशक डॉक्टर दिलीप कुमार जयसवाल ने कहा कि सितंबर माह में 11 सदस्यीय चिकित्सकों की टीम ने यह कारनामा कर दिखाया है। उन्होंने कहा कि इस तरह के इलाज की व्यवस्था अब तक सिर्फ बड़े शहरों यथा दिल्ली, हैदराबाद तक सीमित थी। जहां घुटना प्रत्यारोपण में दो से ढाई लाख एवं हिप प्रत्यारोपण में पांच से सात लाख रुपए का खर्च आता है। लेकिन एमजीएम मेडिकल कॉलेज में निःशुल्क यह ऑपरेशन किया गया है। उन्होंने कहा कि सीमांचल व कोशी के गरीब लोग इतनी बड़ी राशि खर्च कर इलाज कराने का साहस नहीं जुटा पाते हैं। अब ऐसे लोगों के लिए एमजीएम ने एक कदम और बढ़ा दिया है। उन्होंने कहा कि जिनके घुटने का प्रत्यारोपण हुआ है उनमें से एक शिबू ऋषि कोचाधामन प्रखंड एवं मोहम्मद आलमगीर अमौर प्रखंड के रहने वाले हैं। हिप प्रत्यारोपण वाले एक मरीज रामचन्द्र पासवान सहरसा जिले के सोनवर्षा निवासी जबकि दूसरा मरीज जोगेंद्र साह मधेपुरा जिला के रहने वाले हैं। सभी मरीज ऑपरेशन के बाद स्वस्थ व खुश हैं। ऑपरेशन में हड्डी रोग विभाग के प्रोफेसर जितेंद्र नाथ पाल, डॉक्टर अविनाश कुमार, डॉक्टर अनुभव जैन, डॉक्टर मनीष कुमार तिवारी, डॉक्टर अमित कुमार, डॉक्टर रणजोध सिंह, डॉक्टर सरफराज इफ्तेखार, डॉक्टर बेनु गोपाल दास, डॉक्टर हर्ष रंजन, डॉक्टर नवनीत सिंह सलूजा एवं डॉक्टर अंगद शामिल थे।

खबरें और भी हैं...