मांग:जल संसाधन विभाग के सचिव से मिले पूर्व विधायक जनसमस्याओं पर चर्चा कर कार्यवाही की मांग की

किशनगंज8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पटना में सचिव से मुलाकात करते जदयू प्रदेश उपाध्यक्ष। - Dainik Bhaskar
पटना में सचिव से मुलाकात करते जदयू प्रदेश उपाध्यक्ष।

जदयू प्रदेश उपाध्यक्ष सह पूर्व विधायक मुजाहिद आलम ने गुरुवार को पटना में जल संसाधन विभाग के सचिव सह परिवहन सचिव सह आपदा प्रबंधन विभाग सचिव संजय अग्रवाल से मुलाकात की और कई अहम समस्याओं पर चर्चा कर उचित कार्रवाई की मांग की। पूर्व विधायक ने बताया कि जल संसाधन विभाग के सचिव से किशनगंज जिला अन्तर्गत एमएमयू किशनगंज सेंटर को बिहार सरकार द्वारा हस्तांतरित 224.02 एकड़ भूमि एवं पुलिस लाइन किशनगंज की भूमि को महानन्दा नदी के कटाव से बचाने के लिए प्रस्तावित बांध/ बाढ़ सुरक्षात्मक कार्य को पुनः प्रारम्भ करने हेतु उचित पहल करने की मांग की गई है। एएमयू की जमीन पर जल संसाधन विभाग, बिहार सरकार द्वारा 44 करोड़ की लागत से चार किलोमीटर बांध का निर्माण कराया जा रहा था। पर नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल, नई दिल्ली ने बांध निर्माण सहित एएमयू किशनगंज सेंटर की जमीन पर किसी तरह के निर्माण कार्य पर रोक लगा दिया है। इस संबंध में जल संसाधन विभाग के सचिव, बिहार सरकार द्वारा नेशनल मिशन फार क्लीन गंगा के कार्यकारी निदेशक को पत्र द्वारा बांध निर्माण कार्य को फिर से चालू करने की मांग की गई है। परन्तु अभी तक नेशनल मिशन फार क्लीन गंगा के तरफ से हर झंडी नहीं दी गई है। इसलिए आप अपने स्तर से सार्थक पहल कर मामले का उचित हल निकालें। इसके साथ ही बिशनपुर ओपी के भवन निर्माण का मामला पिछले दो सालों से रूका हुआ है। इस संबंध में बिहार पुलिस भवन निर्माण निगम से पहल कर जल्द निमार्ण कार्य प्रारंभ करने की कोशिश की जाए। इसके अलावे विधायक ने सभी सामूहिक सड़क दुघर्टना में मृतकों के आश्रितों को अनुग्रह अनुदान राशि का चार चार लाख रुपए भुगतान करने की अग्रतर कारवाई करने की मांग की। इस संबंध में आपदा प्रबंधन विभाग के सचिव ने बताया कि सारे पेंडिंग मामलों का निष्पादन कर दिया गया है।

खबरें और भी हैं...