पंचायत चुनाव, 10वां चरण:अंतिम चरण में कोचाधामन प्रखंड की 24 पंचायतों में 337 केंद्रों पर वोटिंग आज

किशनगंज2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ईवीएम लेकर मतदान केंद्र के लिए प्रस्थान करते पीसीसीपी। - Dainik Bhaskar
ईवीएम लेकर मतदान केंद्र के लिए प्रस्थान करते पीसीसीपी।
  • सुबह सात बजे से शाम पांच बजे तक 1772 से ज्यादा पुलिस बलों के संरक्षण में डाले जाएंगे वोट

10वें चरण में आज कोचाधामन प्रखंड की 24 पंचायतों में मतदान होगा। मतदान सुबह सात बजे से शाम पांच बजे तक होगी। भयमुक्त, शांतिपूर्ण एवं स्वच्छ वातावरण में मतदान संपन्न कराने के लिए मंगलवार को सभी पीसीसीपी, सेक्टर पदाधिकारी, जोनल पदाधिकारी एवं सुपर जोनल दंडाधिकारियों को चुनाव आयोग के निर्देशों का पालन करने का निर्देश दिया गया। सभी मतदान केंद्रों पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। कोचाधामन जिले का सबसे अधिक पंचायत वाला प्रखंड है। मतदाताओं की संख्या भी यहां अधिक है। यहां मुखिया के 24, ग्राम पंचायत सदस्य के 335, पंचायत समिति के 34, जिला परिषद सदस्य के तीन, ग्राम कचहरी सरपंच के 24 एवं ग्राम कचहरी पंच के 335 पदों का चयन किया जाएगा। प्रखंड में मतदाताओं की संख्या एक लाख 96 हजार 71 है। इनमें एक लाख एक हजार 344 पुरुष मतदाता हैं। महिला मतदाताओं की संख्या 94 हजार 717 है। जबकि तृतीय लिंग के मतदाताओं की संख्या भी 10 हैं। प्रखंड मुख्यालय से मंगलवार को सभी प्रतिनियुक्त पदाधिकारियों को ईवीएम के साथ निर्धारित मतदान केंद्रों के लिए रवाना कर दिया गया। जिला पदाधिकारी आदित्य प्रकाश ने सभी प्रतिनियुक्त पदाधिकारियों को सुबह पांच बजे मतदान केंद्र पर उपस्थित रहने का निर्देश दिया है। प्रखंड में कुल 225 भवनों में 335 मतदान केंद्र बनाए गए हैं।

दिग्गजों की साख दांव पर
राजनीतिक दृष्टिकोण से प्रखंड जिले का केंद्र बिंदू माना जा रहा है। यहां एआईएमआईएम के प्रदेश अध्यक्ष अख्तरुल ईमान का घर है। यहां से इन्हीं के पार्टी के विधायक हैं। यहां पूर्व विधायक सह प्रदेश उपाध्यक्ष जदयू मुजाहिद आलम का भी कार्यक्षेत्र रहने के साथ-साथ गृह क्षेत्र भी है। राजद जिला अध्यक्ष एवं कांग्रेस जिला अध्यक्ष का घर भी इसी प्रखंड में है। सभी स्वयं या परोक्ष रूप से अपने-अपने समर्थकों की जीत सुनिश्चित करने का नीति बना चुके हैं।
धनबल, बाहुबल की नहीं चलेगी
एसडीएम शहनवाज़ अहमद नियाजी ने कहा कि भयमुक्त व शांतिपूर्ण मतदान के लिए प्रशासन प्रतिबद्ध है। धनबल और बाहुबल के दम पर चुनावी प्रक्रिया को प्रभावित करने वालों से प्रशासन सख्ती से निपटेगी।

पूरे प्रखंड क्षेत्र में निषेधाज्ञा लागू
प्रखंड के 24 पंचायतों में जिला दण्डाधिकारी ने निषेधाज्ञा जारी किया है। सुबह सात बजे से मतदान समाप्ति तक निषेधाज्ञा प्रभावी रहेगा। इस दौरान किसी प्रकार के जुलूस, जन सभा, धरना प्रदर्शन पर प्रतिबंध है। मतदान केंद्र के दो सौ मीटर की परिधि में धारा 144 प्रभावी है। पांच या पांच से अधिक लोग एक साथ इस रेडियस में जमा नहीं होंगे। मतदाता अपने निजी वाहनों से मतदान करने आ सकेंगे। लेकिन उन्हें अपनी बाइक दो सौ मीटर पहले छोड़ना होगा।

प्रशासन ने किया सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम
जिले के पंचायत चुनाव को लेकर जिला प्रशासन ने सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम किया है। प्रखण्ड में 181 पेट्रोलिंग कम कलेक्टिंग पार्टी, 48 सेक्टर दण्डाधिकारी, 12 सुपर जोनल, 24 जोनल दण्डाधिकारी को प्रतिनियुक्त किया गया है। सेक्टर दण्डाधिकारी अपने अपने क्षेत्र में वलनरेबुल मतदाताओं के बीच जाकर मतदान करने के लिए प्रेरित करेंगे। साथ ही भयमुक्त वातावरण तैयार करेंगे। इसके अलावे 48 बाइक सवार जवान प्रखंड में गश्त करते रहेंगे। प्रखंड के सभी 24 पंचायतों में ईवीएम क्लस्टर बनाए गए हैं।

पूर्णिया व अररिया सीमा पर बढ़ाई गई चौकसी

किशनगंज| कोचाधामन प्रखंड में आज होने त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव शांतिपूर्ण, भयमुक्त एवं स्वच्छ वातावरण में संपन्न कराने के लिए बूथों में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। प्रखंड के 24 पंचायत में 337 मतदान केंद्रों में 1772 से ज्यादा पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति की गई है। इन सभी मतदान केन्द्रों पर शांतिपूर्ण, भयमुक्त एवं स्वच्छ वातावरण में सम्पन्न कराने हेतु पुलिस सतर्क है। एसपी कुमार आशीष ने कहा कि प्रखंड में 48 सेक्टर, 24 जोन, 12 सुपर जोन बनाया गया है। इसके अलावा छह क्विक रिस्पॉन्स टीम तैनात किए गए। जो बूथों का जायजा लेते रहेंगे। खासकर संवेदनशील बूथों पर विशेष नजर रखी जायेगी। मंगलवार को डीएम आदित्य प्रकाश व एसपी कुमार आशीष के निर्देश पर एसडीएम शाहनवाज अहमद नियाजी व एसडीपीओ अनवर जावेद अंसारी ने बूथों का जायजा लिया। एसपी कुमार आशीष ने कहा कि चुनाव में बाधा उत्पन्न करने वाले व मतदाताओं को डराने वाले व्यक्तियों के विरूद्ध कानूनी कार्रवाई करने हेतु सभी जोनल पदाधिकारी, सेक्टर पदाधिकारी एवं मतदान केन्द्र पर प्रतिनियुक्त पुलिस पदाधिकारी एवं कर्मियों को निर्देशित किया गया है। किसी प्रकार की बाधा पहुचाने की मनसा रखने वालों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। वहीं अतिरिक्त पेट्रोलिंग पार्टी के रूप में पैन्थर मोबाइल टीम का गठन किया गया है। वहीं पूर्णिया व अररिया सीमा पर विशेष चौकसी बरती गई है। लगातार वाहन जांच करने का निर्देश दिया गया है।

खबरें और भी हैं...