पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

उम्मीद:यात्रियों की संख्या में बढ़ोतरी के बाद इस माह से चालू हो सकती है रद्द ट्रेनें

लखीसराय8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
किऊल स्टेशन पर खड़ी दिल्ली जाने वाली ब्रह्मपुत्र, प्रतीक्षा करते यात्री। - Dainik Bhaskar
किऊल स्टेशन पर खड़ी दिल्ली जाने वाली ब्रह्मपुत्र, प्रतीक्षा करते यात्री।
  • वर्तमान में लगभग 70 प्रतिशत ट्रेनें दौड़ रहीं पटरी पर
  • विभिन्न रुटों पर दर्जन भर से ज्यादा ट्रेनें लॉकडाउन के बाद ये हैं रद्द

रेलवे जून के अंत तक रद्द ट्रेनों को फिर से चलाने का निर्णय ले सकती है। रद्द ट्रेनों में पहले किऊल- गया के बीच मेमू सहित इसीआर द्वारा एक साथ विभिन्‍न रूटों पर 14 ट्रेनों का परिचालन शुरू कर दिया गया है। दानापुर डिविजन के एक अधिकारी ने बताया कि अन्य ट्रेनों को फिर से पटरी पर लाने पर जोन स्तर पर विचार हो रहा है। चालू माह के अंत तक कई और ट्रेनें पटरी पर दौड़ने लगेगी। वर्तमान समय में किऊल के रास्ते लगभग 70 प्रतिशत ट्रेनों का परिचालन हो रहा है। कोरोना संक्रमण की रफ्तार भी कम हो रहा है। यात्रियों की संख्या में भी प्रतिदिन इजाफा हो रहा है। फिलहाल सभी ट्रेनें स्पेशल के रूप में ही चलेगी। यात्रियों की मांग बढ़ने पर उन रूटों पर ट्रेनों का परिचालन शुरू किया जा सकेगा। यह रेलवे में सफर करने वाले यात्रियों के लिए सुखद समाचार है। मालदा डिविजन की दो महत्वूपूर्ण ट्रेनें भागलपुर- दानापुर इंटरसिटी एवं भागलपुर- मुजफ्फरपुर जनसेवा एवं गया- जमालपुर- रामपुरहाट के परिचालन का इंतजार हैं।
पिछले साल से 30 प्रतिशत ट्रेनों का परिचालन है बंद
पिछले साल 23 मार्च से लगभग 30 प्रतिशत ट्रेनों का परिचालन बंद है। हालांकि रेलवे द्वारा 70 प्रतिशत से ज्यादा ट्रेनों को पटरी पर फिर से उतारा गया है। मई महीने के संक्रमण के बढ़ते रफ्तार और यात्री संख्या में कमी के चलते रेलवे ने कई महत्वपूर्ण ट्रेनों को अगले आदेश तक के लिए बंद कर दिया है। अब फिर से इन ट्रेनों के परिचालन की उम्मीद जगी है।

बढ़ने लगी यात्रियों की संख्या
मई के पहले सप्ताह में जहां यात्रियों की संख्या मात्र 20 प्रतिशत रह गई थी, अंतिम सप्ताह में 60 प्रतिशत से ऊपर पहुंच गई है। जून के पहले सप्ताह में यात्री संख्या में और भी वृद्धि हुई। लगभग 70- 75 प्रतिशत यात्री ट्रेनों में सफर करने लगे हैं। यही वजह है कि लंबी दूरी की ट्रेनों में कंफर्म टिकटें नहीं मिल रही। वेटिंग चल रही है।

वैटिंग टिकट वालों को सफर की इजाजत नहीं| वैंटिंग टिकट लेकर बड़ी संख्या संख्या में यात्री किऊल एवं लखीसराय स्टेशन पहुंच रहे है। सीआइटी ने बताया कि वेटिंग टिकट वाले यात्रियों को ट्रेन में सफर करने कली इजाजत नहीं है। ऐसे यात्रियों को पेनाल्टी के साथ गणतव्य स्टेशनों के लिए टिकट बनाया जाता है।

माह के अंत तक ट्रेनों को चलाने पर हो रहा विचार
यात्रियों की संख्या में वृद्धि हो रही है। कई रूटों पर 5 जून से ट्रेनों का परिचालन फिर से शुरू किया गया है। यात्रियों की मांग पर अन्य रद्द ट्रेनों को जून के अंतिम सप्ताह तक चलाने पर विचार किया जा रहा है। जल्द ही जोन स्तर पर इस पर फैसला लिया जाएगा।
राजेश कुमार, सीपीआरओ इसीआर

24 जून से सरहिंद स्टेशन पर ट्रेनों के रूट में होगा बदलाव, कुछ होंगी रद्द

लखीसराय | ईस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर कार्य व उत्तर रेलवे के सरहिन्द स्टेशन पर नॉन-इंटरलॉक के चलते रेलवे ने कई ट्रेनों को रद्द कर दिया है तो कई के रूट बदल दिया है। 24 जून से इस रूट की कई ट्रेनें रद्द रहेगी। कुछ रूट बदल कर चलेगी। इसीआर ने इस संबंध में रविवार को नोटिफिकेशन जारी किया है। सीपीआरओ राजेश कुमार ने इसकी जानकारी दी है। भागलपुर से 24 जून को चलने वाली 05097 भागलपुर-जम्मूतवी स्पेशल रद्द रहेगी। डाउन में जम्मूतवी से 29 जून 05098 जम्मूतवी-भागलपुर स्पेशल नहीं चलेगी। कोलकाता से 27 जून को चलने वाली 02317 कोलकाता-अमृतसर एवं डाउन में अमृतसर से 29 जून चलने वाली 02318 अमृतसर-कोलकाता अकाल तख्त स्पेशल रद्द रहेगी। हावड़ा से 25 एवं 26 जून रवाना होने वाली 02331 हावड़ा-जम्मूतवी हिमगिरी स्पेशल जम्मूतवी से 27 एवं 28 जून चलने वाली 02332 जम्मूतवी-हावड़ा हिमगिरी स्पेशल रद्द रहेगी। हावड़ा से 25 से 29 जून को चलने वाली 03005 हावड़ा-अमृतसर एवं अमृतसर से 26 से 30 को चलने वाली 03006 अमृतसर-हावड़ा पंजाब मेल नहीं चलेगी।
रूट बदल कर चलगी ये ट्रेनें
कोलकाता से 24 जून को चलने वाली 02325 कोलकाता-नांगलडेम एवं नांगलडेम से 26 जून को चलने वाली 02326 नांगलडेम-कोलकाता गुरुमुखी स्पेशल परिवर्तित मार्ग मोरिंडा जं. एवं चंडीगढ़ के रास्ते चलायी जायेगी। कोलकाता से 16 जून को चलने वाली 02317 कोलकाता-अमृतसर अकाल तख्त स्पेशल परिवर्तित मार्ग चंडीगढ़, सानेहवाल के रास्ते चलायी जायेगी।

खबरें और भी हैं...