मौसम की मार:दिल्ली जाना हुआ मुश्किल, मिल रही लंबी वेटिंग

लखीसरायएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दिसंबर से लेकर फरवरी तक कोहरे की वजह से रेलवे ने कई ट्रेनें को किया कैंसल

दिल्ली जाने वाली ज्यादातर ट्रेनें तीन महीने तक के लिए रद्द है। रेलवे ने दिसंबर-जनवरी और फरवरी में संभावित कोहरे के चलते दिल्ली जाने वाली ट्रेनों को रद्द कर दिया है। कई ट्रेनों के फेरों में कमी की गई है। नतीजा जाड़े के मौसम भी लोगों को ट्रेन में सीट नहीं मिल रही हे। जो ट्रेनें चल रही है, उसमे लंबी वेटिंग है। दिल्ली व लंबी दूरी की ट्रेनों में 400 से दे ज्यादा वेटिंग चल रही है। ट्रेनें रिग्रेड मोड़ में है। तत्काल टिकट मिल पाना बड़ा मुश्किल भरा है। ऐसे में यात्रियों की परेशानी बढ़ती ही जा रही है। किऊल के रास्ते दिल्ली जाने-आने वाली महत्वपूर्ण ट्रेनों में कामाख्या-दिल्ली ब्रह्मपुत्र मेल 1 दिसंबर से 28 फरवरी तक के लिए रद्द कर दी गई है। यह ट्रेन दिल्ली के लिए रोजाना चला करती थी। इसी तरह मालदा से नई दिल्ली को जाने वाली द्वि साप्ताहिक, मालदा-दिल्ली वीकली को भी 28 फरवरी तक कद लिए रद्द किया गया है। इसके अलावा भागलपुर-आनंद विहार के बीच रोजाना चलने वाली विक्रमशिला एक्सप्रेस सप्ताह में 5 दिन ही चलाई जा रही है। मालदा- दिल्ली के बीच प्रतिदिन चलने वाली फरक्का एक्सप्रेस सप्ताह में 5 दिन चल रही है। भागलपुर आनंद विहार के बीच चलने वाली ट्राई वीकली गरीब रथ वर्तमान में सप्ताह में दो दिन ही च रही है। फिलहाल दिल्ली जाने के लिए प्रतिदिन आने जाने वाली कोई भी ट्रेन की सुविधा नहीं है। दिल्ली जाने वाली हावड़ा-नई दिल्ली पूर्वा एक्सप्रेस, विक्रमशिला एक्सप्रेस, मधुपुर हम सफर में काफी लंबी वेटिंग है। गोड्डा नई दिल्ली हम सफ़र सामान्य लोगों के लिए नहीं है। इसके सभी कोच ऐसी है। उक्त जानकारी सीपीआरओ राजेश कुमार ने दी है।

तत्काल में एक से दो टिकट | यात्रियों का तत्काल टिकटों से भरोसा उठ गया है। काफी मशक्कत के बाद भी तत्काल टिकटें नहीं मिलती। लोग रात भर जग कर तत्काल टिकटों का इंतज़ार करते, पर काउंटर खुलते ही टिकटें फुल हो जाती। मुश्किल से एक-दो तत्काल टिकटें ही बुक हो पाती। बुकिंगकर्मियों की माने तो रेलवे ने 70 प्रतिशत तत्काल टिकटों की बुकिंग आईआरसीटीसी के हाथों में सौंपी दी है।

ट्रेनों के जनरल कोच में पेनाल्टी देकर दिल्ली तक की रहे यात्रा

लखीसराय | ट्रेनों में रिजर्वेशन को लेकर मारा मारी चल रही है। दिल्ली जाने वाले यात्री तुलना में ट्रेनों की कमी के चलते यात्रियों को कंफर्म सीट नहीं मिल रहा है। जरूरी काम वाले लोग पेनाल्टी देकर जनरल कोच में भीड़ में ठूंस कर दिल्ली जाने को मजबूर है। लंबी दूरी की किसी भी ट्रेनों के जनरल कोच के लिए साधारण टिकटों की बुकिंग नहीं हो रही है। जनरल कोच में भी सफर करने के लिए कंफर्म आरक्षित टिकटों को ही वैध माना जाता है। ऐसे में दिल्ली जाने वाले यात्रियों को 250 रुपये जुर्माना चुका कर दिल्ली पहंुच रहे हैं। भीड़ में खड़े होकर यात्रा करना यात्रियो की मजबूरी है।

खबरें और भी हैं...