पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बाढ़ की तैयारी:निस्ता और रसलपुर में जर्जर तटबंधों पर आज से लगाया जाएगा जिओ बैग

सूर्यगढ़ा9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

किऊल नदी का बढ़ते जलस्तर को देखते हुए बाढ़ की तैयारी को लेकर रविवार को एसडीएम संजय कुमार, डीडीसी अनिल कुमार के अलावा बाढ़ प्रमंडल भागलपुर के कार्यपालक अभियंता सहित अन्य अधिकारियों ने निस्ता और रसलपुर के जर्जर तटबंधों का जायजा लिया। इस दौरान निस्ता में जर्जर 200 मीटर तटबंध एवं रसलपुर में 300 मीटर जर्जर तटबंधों की मरम्मत को लेकर सोमवार से कार्य प्रारंभ करने की बात कही गयी। बाढ़ के पूर्व बाढ़ के पानी से बचाव की तैयारी एवं किऊल नदी के किनारे बसे गांवों की सुरक्षा को लेकर अधिकारियों ने चर्चा की। बात दें कि निस्ता और रसलपुर तटबंध वर्षों से जर्जर है। जहां बारिश के मौसम में यहां के लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। पानी के रिसाव के कारण बाढ़ का पानी पूरे गांव में घुस जाता है ओर लोगों को इससे काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। तटबंध के स्थायी मरम्मति नहीं होने के कारण हर वर्ष लाखों रुपए का खर्च मरम्मत के नाम किया जाता है। जिप उपाध्यक्ष मनोज मेहता ने कई बार अवगिल और रसलपुर सुरक्षा तटबंध की मरम्मति को लेकर अधिकारियों का ध्यान आकृष्ट किया लेकिन आज तक सुरक्षा तटबंध की स्थानीय मरम्मति नहीं की गयी है। नतीजतन प्रत्येक वर्ष अस्थायी मरम्मति के नाम पर लाखों रुपए खर्च किये जाते हैं।

खबरें और भी हैं...