मजूदर हो रहे परेशान / पंचायत में क्वारेंटाइन सेंटर चालू नहीं होने से प्रवासी मजूदर हो रहे परेशान

X

  • क्वारेंटाइन सेंटर नहीं होने से प्रवासी मजदूरों को हो रही परेशानी

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

सूर्यगढ़ा. प्रखंड क्षेत्र में डीएम के निर्देश के आलोक पंचायत स्तर पर क्वरेंनटाइन सेंटर खोलने को लेकर संबंधित पंचायत के मुखिया एवं पंचायत में स्थित स्कूल के प्रधानाध्यापक को जिम्मा दिया गया लेकिन, प्रधानाध्यापक और मुखिया के रूचि नहीं लेने के कारण क्वारेंनटाइन सेंटर नहीं बनाया गया। जिससे प्रवासी मजदूरों की परेशानी बढ़ गई है।

कन्या मध्य विद्यालय नरोत्तमपुर कजरा एवं सलेमपुर पश्चिमी पंचायत स्थित किसान भवन में सेंटर नहीं बनाने से लोगों को परेशानी बढ़ गयी है। ग्रामीणों ने भी सेंटर खोलने का विरोध कर अंचलाधिकारी को आवेदन दिया गया है। 18 मई को सलेमपुर पश्चिमी पंचायत के चन्द्रवंशी टोले के चार लोग दिल्ली से सूर्यगढा आये थे जिसे तीन दिन तक पंचायत स्थित क्वारेंटाइन सेंटर में शरण नहीं मिल पाया तो चार दिन से बगीचे में रहकर समय बिता रहे हैं।

ग्रामीणों के विरोध करने पर माणिकपुर पुलिस के द्वारा माणिकपुर क्वारेंटाइन सेंटर पर ले जाया गया जहां से उसे अपने पंचायत में रखने को कहकर निकाल दिया गया। उसके बाद सलेमपुर पश्चिमी पंचायत के दूसरे भाग मध्य विद्यालय मौलानगर में गुरूवार को क्वारेंटाइन किया गया तो वहां के लोगों ने भी विरोध जताते हुए कहा कि सेंटर नहीं खोलने दिया।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना