पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

संदेश:डॉक्टर की सलाह पर रहे होम क्वारेंटाइन, भाप ली, गर्म खाना और नियमित व्यायाम से कोरोना को हराया, लोगों को कर रहे जागरूक

सूर्यगढ़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सूर्यगढ़ा के सीओ पिछले साल हुए थे पॉजिटिव, नहीं हारी हिम्मत, आज भी लोगों के बीच कर रहे ड्यूटी

सूर्यगढ़ा प्रखंड के अंचलाधिकारी सुमित कुमार आनंद पिछले साल कोरोना काल में कार्य करने के दौरान कोरोना संक्रमण के शिकार हो गए थे और चिकित्सक के सलाह पर 14 दिनों तक होम आइसोलेशन में रहे। निगेटिव रिर्पोट आने के बाद कोरोना के कार्य में उत्साह से जुट गये। लोगों को कोरोना गाइडलाइन का पालन कराने और घरों में लोगो को सुरक्षित रहने के लिए सड़क पर उतरे हुए हैं। सूर्यगढ़ा में सामुदायिक किचन के लिए कार्य करने के साथ ही कोरोना पॉजिटिव मरीजों की परेशानी को भी दूर कर रहे हैं। पिछले साल संक्रमण के शिकार होने पर भी हिम्मत नहीं हारे और इस साल भी बिना किसी भय के काम कर रहे हैं। पिछले साल जुलाई माह में बाहर से आने वाले प्रवासी मजदूर को क्वारेंटाइन सेंटर में भर्ती करने एवं सेंटर को सुचारू रूप से चलाने के दौरान ही वे कोरोना पॉजिटिव हुए थे। 14 दिन तक होम आइसोलेशन में रहे। चिकित्सकों की सलाह एवं गुनगुना पानी एवं दुध हल्दी का नियमित सेवन, व्यायाम, भाप लेना, काढ़ा पीने के कारण कोरोना को मात देकर कार्य में जुट गये। सीओ ने बताया कि पॉजिटिव होने के बाद भय लग रहा था। परिवार की चिंता थी। सुंगघ नहीं आने और सही तरीके से आवाज नहीं निकलने की वजह से डिप्रेशन में था लेकिन कोरोना पर विजय पाने के लक्ष्य ने मन का भय निकाल दिया। कोरोना गाइडलाइन के अनुसार दवा ली। नियमित व्यायाम, भाप और गर्म खाना के साथ साथ पौष्टिक आहार लिया एवं विशेष खाना पान पर ध्यान दिया एवं स्वस्थ्य होकर वापस लौटे और तुरंत ड्यूटी ज्वाइन किया। पैक्स चुनाव एवं विधानसभा के दौरान कोरोना गाइडलाइन का पालन करवाने तक एवं उसके पूर्व भी डटकर ड्यूटी किया। कोरोना वैक्सीन का शुरुआत हुई तो सर्वप्रथम वैक्सीन ली। वर्तमान परिस्थिति में कोरोना महामारी का रूप ले रखा है। कहा कि कोरोना से डरने का नहीं बल्कि उससे मुकाबला करने का है। नियमों का पालन से कोरोना हारेगा और लोग जीतेंगे।

खबरें और भी हैं...