निरीक्षण किया / गंगा में बढ़ते जलस्तर का एसडीओ व एडीपीओ ने लिया जायजा, बोले-बचाव की हो रही तैयारी

बड़हिया गंगा घाट का निरीक्षण करते एसडीओ व एसडीपीओ। बड़हिया गंगा घाट का निरीक्षण करते एसडीओ व एसडीपीओ।
X
बड़हिया गंगा घाट का निरीक्षण करते एसडीओ व एसडीपीओ।बड़हिया गंगा घाट का निरीक्षण करते एसडीओ व एसडीपीओ।

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 04:00 AM IST

बड़हिया. एक पखवाड़े से लगातार हो रही बारिश के कारण अब गंगा व उसकी सहायक नदियों का जलस्तर बढ़ने लगा है। बड़हिया प्रखंड के टाल एवं दियारा क्षेत्र में जलस्तर बढ़ता जा रहा है। मानसून में हो रही मूसलाधार बारिश के कारण टाल व दियारा इलाके में बाढ़ आना तय माना जा रहा है। 
    ऐसे में प्रशासन ने अभी से तैयारी शुरू कर दी है। सोमवार को एसडीओ मुरली प्रसाद सिंह, एसडीपीओ रंजन कुमार ने बाढ़ प्रभावित बड़हिया, खुटहा, जैतपुर आदि क्षेत्रों का निरीक्षण किया। बारिश के कारण गंगा और हरूहर नदी का पानी उफान पर है। गंगा नदी की तेज धाराओं से दियारा क्षेत्र के कई स्थानों पर कटाव का खतरा मंडराने लगा है। शहरी क्षेत्र के अलावे ग्रामीण क्षेत्र का जन जीवन अस्त व्यस्त होने का आशंका लगी है। हजारों एकड़ में लगी फसलें डूबने के कगार पर पहुंच गयी है। फसलों के नुकसान की आशंका से टाल एवं दियारा क्षेत्र के किसानों में खौफ का माहौल है।  टाल व दियरा क्षेत्र का रास्ता प्रखंड मुख्यालय से कटने आशंका बढ़ गयी है। आशंका को देखते हुए सिकन्दरपुर, खुशहाल टोला, बौधी टोला आदि गांवों के परिवार पलायन की तैयारी में लग गये हैं। अगर गंगा का जलस्तर इसी रफ्तार से बढ़ा तो तटवर्ती इलाके में शीघ्र बाढ़ का पानी फैल जायेगा। सबसे ज्यादा परेशानी जैतपुर पंचायत के बिंद टोली के ग्रामीणों के सामने है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना