पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

संदेश:14 दिनों तक लखीसराय में आइसोलेशन में रहे, डॉक्टर की सलाह मानी, पौष्टिक आहार और योग से करोना को हराया

सूर्यगढ़ाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सूर्यगढ़ा थाना के एसआई पिछले साल हुए थे पॉजिटिव, नहीं हारी हिम्मत, आज भी लोगों को कर रहे जागरूक

कोविड-19 के संक्रमण के बीच कई लोग उत्साह और लगन से लोगों को बचाने के लिए नियमित कार्य मुस्तैदी से कर रहे हैं। जबकि पिछले साल कोरोना संक्रमण के शिकार होने के बाद भी हिम्मत नहीं हारी और बिना किसी भय के काम कर रहे हैं। ऐसे अधिकारी कोरोना के प्रति जागरूक करने के साथ ही लोगों के दिलों से कोरोना के भय को दूर भी कर रहे हैं। आदर्श थाना सूर्यगढ़ा में पदस्थापित एसआई सुबोध कुमार प्रसाद पिछले साल मई माह में कोरोना पॉजिटिव होनेे के 14 दिन तक होम आइसोलेशन में रहे। हिम्मत नहीं हारी और धैर्य से काम लिया। पोजिटिव होने के बाद सुंघने की शक्ति समाप्त हो गयी थी। 14 तक लखीसराय में आइसोलेशन में रहे और कोरोना को मात देकर कोरोना के कार्य में फिर से जुट गये। लोगों को कोरोना गाइडलाइन का पालन कराने और घरों में लोगों को सुरक्षित रहने को लेकर क्षेत्र में काम कर रहे हैं। एसआई सुबोध कुमार प्रसाद ने बताया कि वर्ष 2020 मई में पॉजिटिव हुए थे। लखीसराय स्थित क्वारेंटाइन सेंटर में रखा गया था। शुरू में डरे लेकिन कोरोना के भय से बाहर निकलकर जीतने का लक्ष्य बना लिया।14 दिन के क्वारंेटाइन सेंटर में रहकर कोरोना गाडलाइन के अनुसार दवा ली। भाप और गर्म खाना का सेवन किया। खाना में पौष्टिक आहार लिया एवं विशेष खाना पान पर ध्यान दिया एवं स्वस्थ्य होकर वापस लौटे और तुरंत ड्यूटी किया। इसी क्रम में सरकार द्वारा कोरोना वैक्सीन की शुरूआत की गयी तो सर्वप्रथम वैक्सीनेशन कराया।वर्तमान परिस्थिति में कोरोना महामारी का रूप ले रखा है। सावधानी बरतते हुए लोगों को जागरूक करने और सरकार के निर्देशों का पालन कराने का काम कर रहे हैं। कोरोना से डरने का नहीं बल्कि उससे मुकाबला करने का है। नियमों का पालन से कोरोना हारेगा और लोग जीतेंगे। कोरोना के दौरान सुबह सुबह व्यायाम,प्राणायाम के साथ पौष्टिक आहार से मनुष्य के अंदर इम्यूनिटी पावर स्ट्रांग होती है। इस महामारी में अब दुगने उत्साह के साथ अपने कर्तव्यांे का पालन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि बढ़ते महामारी को देखते हुए लाॅकडाउन की घोषणा की है इसलिए बेवजह घरों से बाहर नहीं निकलें। बाहर निकलने पर मास्क का प्रयोग करें और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें।

खबरें और भी हैं...