नगर परिषद बोर्ड की बैठक में झोल / बिना चर्चा के मात्र एक मिनट में ‌‌3.69 अरब का बजट पारित, राशन कार्ड के मुद्दे पर 59 मिनट उलझे रहे पार्षद

नगर परिषद सभागार में वार्ड पार्षदों के साथ सामान्य बोर्ड की बैठक में उपस्थित नप सभापति, उपसभापति व कार्यपालक पदाधिकारी। नगर परिषद सभागार में वार्ड पार्षदों के साथ सामान्य बोर्ड की बैठक में उपस्थित नप सभापति, उपसभापति व कार्यपालक पदाधिकारी।
The budget of ‌‌3.69 billion passed in just one minute without discussion, councilors remained confused for 59 minutes on the issue of ration card
X
नगर परिषद सभागार में वार्ड पार्षदों के साथ सामान्य बोर्ड की बैठक में उपस्थित नप सभापति, उपसभापति व कार्यपालक पदाधिकारी।नगर परिषद सभागार में वार्ड पार्षदों के साथ सामान्य बोर्ड की बैठक में उपस्थित नप सभापति, उपसभापति व कार्यपालक पदाधिकारी।
The budget of ‌‌3.69 billion passed in just one minute without discussion, councilors remained confused for 59 minutes on the issue of ration card

  • नप सभागार में वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए बजट पारित, वार्ड पार्षदों ने कहा-नहीं दिया गया चर्चा का समय, सभापति बोले-दिया था पर्याप्त मौका
  • 15 जुलाई तक वार्ड पार्षदों की बैठक बुलाकर राशन कार्ड के मामले में निर्णय लेने की कही गई बात

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

लखीसराय. नगर परिषद बोर्ड ने वित्तीय वर्ष 2020- 21 के लिए 3.69 अरब रुपये का बजट महज एक मिनट में पारित कर दिया। नगर परिषद सभागार में मंगलवार को बजट पर चर्चा के लिए एक घंटे तक बैठक हुई। जिसमें सभापति ने बजट को सदन में रखा। एक मिनट में सर्वसम्मति से बजट पारित कर दिया गया। हालांकि बजट में शहर में नागरिक सुविधाओं पर 20 करोड़ का प्रावधान किया गया है। बजट पर वार्ड पार्षदाें ने चर्चा करना जरूरी नहीं समझा और सर्वसम्मति से चालू वित्तीय बजट को पास कर दिया। नप सशक्त स्थाई समिति बजट इस साल 18 फरवरी काे पारित हो चुकी है। बैठक में मौजूद वार्ड पार्षद बजट पर चर्चा करने के बजाय राशन कार्ड के आवेदन को रद्द कर देने के मामले में उलझे रहे। कोरोना संक्रमण के कारण चालू वित्तीय वर्ष का बजट पारित नहीं किया जा सका था।
      राशन कार्ड के मुद्दे पर पार्षदों 59 मिनट तक उलझे रहे। वार्ड पार्षद रंजीत कुमार, अमरजीत प्रजापति एवं प्रकाश महतो ने कहा कि राशन कार्ड आवेदनों को कैसे रद्द किया गया, सभापति सदन को बताएं। संबंधित वार्ड पार्षदों से राशन कार्ड की सूची मांगी। जवाब में सभापति ने कहा आवेदनों की छंटनी के लिए नगर परिषद जिम्मेवार नहीं हैं। राशन कार्ड बनाने की जिम्मेवारी डीएम, एसडीओ एवं बीडीओ की है। सभापति के जवाब से सदस्य शांत नहीं हुए। तब निर्णय हुआ कि राशन कार्ड के मुद्दे पर 15 जुलाई तक वार्ड पार्षदों की बैठक में आगे का निर्णय हाेगा। बैठक में नप ईओ डा. विपिन कुमार, उप सभापति सुनील कुमार एवं 15 वार्ड पार्षद सहित 31 वार्ड पार्षदाे ने बैठक में हिस्सा लिया।
बजट पर चर्चा को नहीं दिया समय : प्रकाश महतो,पार्षद
वार्ड पार्षद प्रकाश महतो ने कहा कि बजट पर चर्चा के लिए समय नहीं दिया। इस बजट से शहर का विकास संभव नहीं। सभापति ने नहीं बताया कि 3.69 अरब रुपये कहां से आएंगे। चर्चा के पहले ईओ व सभापति सदन से बाहर निकल गए।

शहर के विकास के लिए ही है यह बजट : उप सभापति
उप सभापति सुनील कुमार ने कहा कि बजट विकासोन्मुख है। केन्द्र एवं राज्य सहयोग से शहर का विकास होगा। विकास के लिए बजट में कई बड़ी योजनाएं हैं। जल निकासी, रोशनी एवं नागरिक सुविाधाओं पर फोकस है। चर्चा के लिए समय दिया था। 

बजट काफी सोच विचार के बाद बनाया गया : सभापति
सभापति अरविंद पासवान ने कहा कि बजट काफी सोच विचार के बाद बनाया गया है। 70 हजार रुपये लाभ वाला बजट है। सदस्यों को लिखित जानकारी दी कि बजट में जिन योजनाओं का प्रावधान है, वह कैसे पूरे होंगे। किसी ने बजट पर चर्चा नहीं की। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना