कार्यशैली पर आपत्ति:5 साल में भी 10 वार्डों में नहीं पहुंचा पानी

लखीसराय6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • नगर विकास विभाग ने 210 वार्डों में जलापूर्ति के लिए दिए थे 7 करोड़

पीएचईडी 5 साल में भी शहरी क्षेत्र के 10 वार्डों में पानी नहीं पहुंचा सका। बवाजदू विभाग ने नगर परिषद को 100 प्रतिशत घरों में जलापूर्ति की गतल रिपोर्ट दे दी है। इन वार्डों में प्रत्येक साल गर्मी में पानी की किल्लत होती है। नगर विकास विभाग ने वित्तीय वर्ष 2016-17 में शहर के 10 वार्डों में जलापूर्ति के लिए पीएचईडी को सात करोड़ की राशि भी दी। नगर परिषद ने कई बार पीएचईडी की कार्यशैली पर आपत्ति जताई।

फिर भी काम नहीं हुआ। राशि मिलने के बाद भी जलापूर्ति योजना ठंडे बस्ते में पड़ी रही। नगर परिषद की सख्ती के बाद काम शुरू हुआ। फिर भी घरों तक पानी नहीं पहंुचा। जलापूर्ति योजना के तहत 10 वार्डों में निवार करने वाले हर घरों में जलापूर्ति पाइपलाइन पहुंचना था।

हालांकि पीएचईडी ने पाइप लाइन भी बिछाई, लेकिन घरों तक नहीं पहुंची। नगर परिषद की जांच में रिपोर्ट फर्जी मिली। शहर के 10 वार्डों की लगभग 50 हजार की आबादी प्रभावित है। वार्ड नंबर 3, 4, 5, 6, 7, 8, 9, 10, 11, और 12 में पाइपलाइन के साथ प्रत्येक घरों में पानी पहंुचाना था। वार्ड पार्षद चंदन कुमार, मंजू देवी सहित अन्य वार्ड पार्षदों ने झूठी रिपोर्ट पर पीएचईडी पर कार्रवाई की मांग भी की है। वार्ड पार्षदों ने कहा कि एक तो योजना सालों से लंबित है। ऊपर से गलत रिपोर्ट भी विभाग ने दी है।

खबरें और भी हैं...