सुविधा / कब अति वृष्टि कब अनावृष्टि, अब स्वचालित मौसम स्टेशन से ही क्षेत्र के हजारों किसानों को मिलेगी अद्यतन जानकारी

प्रखंड कृषि कार्यालय परिसर में लगाया गया स्वचालित मौसम स्टेशन। प्रखंड कृषि कार्यालय परिसर में लगाया गया स्वचालित मौसम स्टेशन।
X
प्रखंड कृषि कार्यालय परिसर में लगाया गया स्वचालित मौसम स्टेशन।प्रखंड कृषि कार्यालय परिसर में लगाया गया स्वचालित मौसम स्टेशन।

  • चानन प्रखंड के रामपुर स्थित प्रखंड कृषि कार्यालय परिसर में स्वचालित मौसम स्टेशन स्थापित

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 04:00 AM IST

चानन. अब क्षेत्र के किसानों को हर रोज मौसम की जानकारी मिलेगी। कब अति वृष्टि कब अनावृष्टि होगी इसकी जानकारी को लेकर रामपुर स्थित प्रखंड कृषि कार्यालय परिसर में स्वचालित मौसम स्टेशन स्थापित किया गया है। जिसमें क्षेत्र में हर रोज की वर्षा का अपडेड होता है। 
    बताया जाता है कि इस यंत्र से पहले वर्षों पूरानी पद्धति का लगा हुआ वर्षा मापी यंत्र में लगा ग्लास से वर्षा की जानकारी ली जाती थी। पुराने वर्षा मापी यंत्र वर्षा जल संग्रहित होता था। संग्रहित जल को गिलास से नापते थे। जिसमें मिमी एवं 1 से 20 तक अंक अंकित रहता है। इसमें सही जानकारी नहीं मिल पाती थी।  किन्तु अब नये स्वचालित मौसम स्टेशन के स्थापित होने से हर रोज दैनिक वर्षापात प्रतिवेदन तैयार कर जिला व कृषि विभाग को भेजा जाता है। स्वचालित डिजिटल मौसम केंद्र के आंकड़ों के आधार पर आंधी, तूफान तेज बारिश के अलावे ठनका गिरने की भी संभावना का पता चलता है। सभी ऑटोमेटिक वेदर स्टेशन के आंकड़ों का नियमित पाठ्यांक सांख्यिकी विभाग रखेगा। निर्माण एजेंसी के आधिकारिक जानकारी के मुताबिक प्रखंड मुख्यालय में लगाये जाने वाली सभी संयंत्र आपस में इंटरकनेक्ट होंगे। इसके आधार पर मौसम का पूर्वानुमान लगाया जा सकेगा। इस संबंध में कृषि समन्यवयक कृष्णकिशोर कुमार ने बताया कि स्वचालित मौसम स्टेशन से हर रोज मौसम की जानकारी व वर्षा का रिकार्ड तैयार होता है। उन्होंने बताया कि वर्षा स्वचालित मौसम स्टेशन से प्रतिदिन रिकार्ड किया जाता है।

पहले से अलर्ट जारी होने से होगी सुविधा

किसान दिनेश मंडल, भोला मंडल, साधु यादव, दुखन पासवान आदि ने बताया कि अब मौसम की सही जानकारी पूर्व में मिल जाने से काफी राहत मिल रही है। जब मौसम खराब होता है बारिश आने की संभावना को लेकर अलर्ट किया जाता है तो खेत खलिहान में सुखाये जा रहे फसल को बारिश आने के पूर्व ही उठाव कर लिया जाता है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना