पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वारदात:ऑनर किलिंग में महिला की गला दबा पति ने की हत्या, पति समेत ससुरालवाले फरार

लखीसराय/बड़हियाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जाती पुलिस। - Dainik Bhaskar
शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जाती पुलिस।
  • दो दिन पूर्व प्रेम प्रसंग में पकड़ाई महिला की ग्रामीणों ने प्रेमी संग कराई थी शादी
  • वीरूपुर पुलिस की कार्यशैली पर उठ रहे सवाल, पति व ससुर नामजद

वीरुपुर थाना क्षेत्र के तुर्केजनी गांव में गुरुवार सुबह ऑनर किलिंग में महिला की हत्या कर दी गई। उसके बाद मृतक महिला के पति एवं ससुरालवाले फरार हो गए है। मृतका को एक दो वर्ष की पुत्री भी है। थानाध्यक्ष दिलीप कुमार के नेतृत्व में पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा। बताया जाता है कि महिला को ग्रामीणों ने दो दिन पूर्व प्रेमी के साथ पकड़कर रातभर पेड़ में बांध दिया था। जानकारी अनुसार तुर्केजनी निवासी अवधेश महतो के पुत्र चंदन महतो की शादी 10 वर्ष पूर्व अनीता देवी के साथ हुई थी। उनसे एक पुत्री भी है। मृतका के भाई रामप्रवेश कुमार ने वीरूपुर थाना में पति चंदन कुमार एवं ससुर अवधेश महतो को नामजद कर एफआईआर दर्ज कराई है। एफआईआर में कहा गया है कि शादी के बाद से ही चंदन कुमार दहेज में मोटरसाइकिल के लिए लगातार दबाव दे रहा था। बाइक नहीं देने पर हत्या की कर दी गई।
घटना के बाद ये उठ रहे सवाल
सवाल एक- ग्रामीणों के द्वारा महिला की शादी करवाने के बाद पुलिस ने कोर्ट में बिना 164 का बयान कराए ही महिला के पूर्व पति को कैसे सुपुर्द कर दिया। पुलिस ने महिला का 164 के तहत कोर्ट में क्यों नहीं बयान दर्ज कराया?
सवाल दो- महिला के ससुराल वाले जब उसे अपनाने से इनकार कर दिया तो फिर महिला के कहने बाद कैसे पुलिस ने थाने से ही उसे पूर्व पति के साथ ससुराल भेज दिया? सवाल तीन- पुलिस ने यदि महिला को उसके पूर्व पति के साथ भेजा था तो उसकी सुरक्षा के प्रति गंभीर क्यों नहीं थी? क्योंकि लोकलाज का मामला हुआ था।

दो मई को प्रेमी के साथ पकड़ी गई थी महिला
दो मई को मृतका अनीता देवी को तुर्केजनी गांव स्थित उनके ससुराल में ग्रामीणों ने देर शाम शेखपुरा के अकरपुर गांव निवासी प्रेमी सचिन कुमार के साथ चोरी छुपे मिलते हुए रंगेहाथ पकड़ दोनों को रात भर पेड़ से बांध कर रखा। सोमवार सुबह ग्रामीण और उनके पति की मौजूदगी में प्रेमी युगल की शादी गांव के ही काली मंदिर परिसर में करा दी गई। ग्रामीणों के साथ स्थानीय सरपंच पति अर्जुन साहनी सहित महिला के पहले पति और अन्य स्वजन भी उपस्थित रहे। भीड़ के बीच युवक और युवती असहाय बने रहे। देर रात से सोमवार सुबह तक चले इस ड्रामे और सोशल साइट पर वायरल हो रही सारी गतिविधियों के वीडियो के वायरल होने के बावजूद भी स्थानीय पुलिस को जानकारी तब हुई जब दोनों का विवाह हो चुका था। पुलिस दोनों को अपने कब्जे में ले लिया। महिला का कहना था कि ग्रामीणों ने जबर्दस्ती शादी कराई। ससुराल वालों ने भी अपनाने से इनकार कर दिया था। महिला पति के साथ रहना चाह रही थी। उसके बाद पुलिस ने महिला को ससुराल में छोड़ दिया था। परिजनों ने आशंका जताई है कि उसी रंजिश में गुरुवार सुबह महिला की गला दबाकर हत्या कर परिजन फरार हो गए।

पति औरससुराल वालों ने की हत्या, जांच जारी
विवाहिता की उसके पति और ससुराल पक्ष के लोगों ने ही हत्या की। सभी फरार हैं। गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है। ऑनर किलिंग की भी पड़ताल की जा रही है, लेकिन हत्या ससुराल पक्ष के लोगों ने ही की है। विवाहिता को चार दिन पहले उसके प्रेमी के साथ गांव वालों ने पकड़ा था।
सुशील कुमार, एसपी, लखीसराय

शराब के साथ कारोबारी गिरफ्तार, जेल भेजा
सूर्यगढ़ा| गुरुवार सुबह रामपुर गांव स्थित सहूर-सिंगारपुर संपर्क पथ के समीप सूर्यगढ़ा पुलिस ने छापेमारी कर 30 लीटर देसी शराब के साथ एक बाइक सवार को गिरफ्तार किया।धंधेबाज की पहचान चानन थाना क्षेत्र के धनबह गांव निवासी सदाशिव यादव के पुत्र चंदन कुमार के रूप में हुई। धंधेबाज की कोविड जांच करवाकर लखीसराय जेल भेज दिया गया है।

खबरें और भी हैं...