परेशानी:महेशखूंट में डीएपी नहीं मिलने से किसान परेशान

महेशखूंटएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

थाना क्षेत्र के अलग-अलग हिस्से में रवि फसल को लेकर गेहूं और मकई की बुवाई जोरों पर है। लेकिन फसल बुवाई के लिए आवश्यकता आधारित उर्वरक पोटाश एवं डीएपी किसानों को आसानी से उपलब्ध नहीं होने के कारण क्षेत्र के किसानों को परेशान देखा जा रहा है। स्थानीय किसान अशोक, विनोद, सुरेश के अलावा कई किसानों ने बताया कि बाजार में डीएपी 1300 रूपए प्रति बोरा की दर से उपलब्ध है। जबकि किसानों को पोटाश 1000 रुपए प्रति बोरा की दर से मिल रहा है। कई किसानों ने बताया कि फसल लगाने के समय उर्वरक की कमी बाजार में देखी जा रही है। जिससे किसानों को फसल लगाने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। किसानों ने जिला प्रशासन से आवश्यकता आधारित उर्वरक उपलब्ध करवाने की मांग की है।

खबरें और भी हैं...