पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कैंपस अलर्ट:पीजी में 777 व एलएलबी के लिए 275 ने किया आवेदन

मुंगेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मुंगेर विवि में पीजी सेमेस्टर-1 व एलएलबी सेमेस्टर-1 में दाखिले को लिया जा रहा अावेदन

मुंगेर विश्वविद्यालय द्वारा सत्र 2020-22 पीजी सेमेस्टर-1 व सत्र 2020-23 एलएलबी सेमेस्टर-1 में नामांकन के लिए यूएमआईएस पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन करने की तिथि को बढ़ाकर 15 मई तक कर दिया गया है। जिसके बाद अबतक जहां पीजी सेमेस्टर के कला, विज्ञान एवं वाणिज्य के विभिन्न विषयों में नामांकन के लिए कुल 777 छात्र-छात्राओं ने ऑनलाइन आवेदन किया है। वहीं एलएलबी सेमेस्टर-1 में नामांकन के लिए कुल 275 छात्र-छात्राओं ने अबतक ऑनलाइन आवेदन किया है। नोडल पदाधिकारी प्रो अमर कुमार ने बताया कि मुंगेर विश्वविद्यालय द्वारा दोनों सत्रों में नामांकन के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की तिथि को बढ़ाकर 15 मई तक कर दिया है। जिसमें पीजी सेमेस्टर के कला, विज्ञान एवं वाणिज्य विषयों में नामांकन के लिए कुल 777 छात्र-छात्राओं ने अबतक ऑनलाइन आवेदन किया है। इसमें कला के विभिन्न विषयों में नामांकन के लिए 566, विज्ञान के विभिन्न विषयों के लिए 151 तथा वाणिज्य के विभिन्न विषयों के लिए 60 छात्र-छात्राओं ने ऑनलाइन आवेदन किया है। जबकि एलएलबी सेमेस्टर-1 में नामांकन के लिए अबतक कुल 275 छात्र-छात्राओं ने ऑनलाइन आवेदन किया है।

15 मई तक के लिए बढ़ाई गई अंतिम तिथि
जबकि पूर्व में 22 अप्रैल से पीजी सेमेस्टर-1 तथा एलएलबी सेमेस्टर-1 में नामांकन को लेकर छात्र-छात्राओं से ऑनलाइन आवेदन मांगा गया था। जिसमें पीजी सेमेस्टर-1 में नामांकन को लेकर ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि 10 मई तथा एलएलबी सेमेस्टर-1 में नामांकन को लेकर ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि 30 अप्रैल तक दिया गया था। जिसे अब दोनों सत्रों के लिए बढ़ाकर 15 मई तक कर दिया गया है।

कुलपति ने की कोरोना वैक्सीन लेने की अपील

मुंगेर | मुंगेर विश्वविद्यालय की प्रभारी वीसी प्रो. नीलिमा गुप्ता ने विश्वविद्यालय के शिक्षकों, कर्मियों और छात्रों के अलावा आमजनों से कोरोना महामारी के दुष्प्रभाव से बचने के लिए कोविड वैक्सीन लेने की अपील की है। कुलपति प्रो. गुप्ता ने अपने एक वीडियो संदेश के माध्यम से कहा है कि आज हम सभी कोरोना वायरस से भयभीत हैं। सबों के मन में यह भय सता रहा है कि कहीं यह कोरोना वायरस हमारे घर में न आ जाय। लोग डरे-सहमें हैं। हमारा घर एक स्वर्ग है और हमारे सभी प्रियजन हमारे बहुत ही प्यारे हैं। हम चाहते हैं कि हमारा घर ऐसे ही स्वर्ग बना रहे। इस स्थिति में हम क्या करें ताकि अपने आपको इस वायरस से बचा सकें। हालांकि हम सभी लोग अपने स्तरों से इसको लेकर हर सम्भव प्रयास भी कर रहे हैं। हमलोग जब भी बाहर निकल रहे हैं तो मास्क पहन रहे हैं। दो गज दूरी का पालन कर रहे हैं। कुलपति ने कहा कि सावधानी, सतर्कता और जागरूकता से ही हम कोरोना महामारी से बच सकते हैं। इस स्थिति में हमें धैर्य बनाये रखना है। दृढ़ आत्मबल और आत्मशक्ति के सहारे हम इस महामारी पर विजय पा सकते हैं।

खबरें और भी हैं...