ताक पर कोविड प्रोटोकॉल:मुंगेर में DPM कार्यालय में उमड़ी पारा मेडिकल अभ्यर्थियों की भीड़; सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ाईं धज्जियां

मुंगेर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुंगेर सदर अस्पताल स्थित DPM कार्यालय में पारा मेडिकल की परीक्षा देने पहुंची थीं छात्राएं। - Dainik Bhaskar
मुंगेर सदर अस्पताल स्थित DPM कार्यालय में पारा मेडिकल की परीक्षा देने पहुंची थीं छात्राएं।

मुंगेर में एक तरफ सरकार जहां कोरोना के गाइडलाइन को लेकर लगातार जागरूकता अभियान चला रही है। इसे लेकर प्रचार-प्रसार भी पूरा जोर-शोर से किया जा रहा है। वहीं दूसरी ओर जिले के सदर अस्पताल परिसर स्थित DPM कार्यालय में सोमवार को मुंगेर प्रमंडल के कई जिले से पारा मेडिकल की परीक्षा में शामिल होने आईं अभ्यर्थियों ने कार्यालय परिसर में सरेआम कोविड प्रोटोकॉल की धज्जियां उड़ाई। सोशल डिस्टेंसिंग शब्द का अर्थ तो मानों वे भूल ही गई थीं। कुछ अभ्यर्थी बिना मास्क लगाए नजर आ रही थीं। कार्यालय परिसर में एक जगह पर 200 से अधिक अभ्यर्थियों की भीड़ जमा थी।

कोरोना काल में सदर अस्पताल परिसर स्थित DPM कार्यालय उमड़ी भीड़ को देख स्थानीय लोग दहशत में हैं। उनका कहना है कि अगर कोई भी अभ्यार्थी संक्रमित हुई तो उसके चपेट में आने से कई अभ्यर्थी संक्रमित हो सकते हैं । ऐसे हालात में कोरोना के चेन को तोड़ना नामुमकिन होगा। ऐसे हालात में जिले में कोरोना पोजेटिव मरीजों की संख्या में फिर वृद्धि हो सकती है।

इस भीड़ को देखने वाला ना तो स्वास्थ्य विभाग के कोई अधिकारी थे और ना ही जिला प्रशासन के कोई वरीय पदाधिकारी। यहां तक की DPM कार्यालय में जो निजी गार्ड ड्यूटी पर तैनात थे वह भी भीड़ को देखते हुए भाग खड़े हुए। सदर अस्पताल प्रबंधन की माने तो मामले की जांच की जा रही है। DPM कार्यालय से जानकारी ली जा रही है। कोविड प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने वालों की पहचान की जा रही है। मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है।

पारा मेडिकम अभ्यर्थियों की वॉक इन इंटरव्यू में शामिल होने GNM स्कूल में प्रशिक्षणार्थी भी इंटरव्यू में शामिल होने पहुंच गई थीं। GNM स्कूल को डेडिकेटेड कोविड केयर सेंटर बनाया गया है। यहां 150 बेड की व्यवस्था है। कोविड मरीज के तीमारदारों का आरोप है कि GNM स्कूल के कई प्रशिक्षणार्थी इंटरव्यू में चली गई, जिस कारण मरीजों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। मरीजों को 4 घंटे तक दवा देने वाला भी कोई नहीं था।

मुंगेर में रोजाना कोरोना के सैकड़ों नए मरीज निकल रहे हैं। कोरोना संक्रमण की चपेट में आने से कई लोगों की अब तक मौत भी हो चुकी है। रविवार को भी चार लोगों की मौत हुई है। कोरोना से अबतक 117 लोगों की मौत हो चुकी है। इधर, जिले में बढ़ते कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने को लेकर जिला प्रशासन भी अपनी पूरी ताकत को झोंक दिए हैं। रविवार की शाम DM व SP सहित अन्य प्रशासनिक पदाधिकारी शहर की सड़कों पर मार्च करते हुए लोगों को सरकार के द्वारा दिए गए गाइडलाइन का पालन करने को लेकर दिशा निर्देश दिए। इसके बावजूद भी लोग जानबूझकर सरकार के गाइडलाइन की धज्जियां उड़ाते नजर आ रहे हैं। प्रशासनिक स्तर पर अगर ऐसे भीड़ पर लगाम नहीं लगाया गया तो जिले की स्थिति और भी ज्यादा बदतर हो गई।

खबरें और भी हैं...