पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ऐसे कोरोना को हराना मुश्किल:वैक्सीनेशन सेंटर में खाली रहीं कुर्सियां, 2490 लोगों को लगना था टीका, मात्र 439 को लगा

मुंगेर23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सदर अस्पताल के वैक्सीनेशन सेंटर में खाली पड़ी कुर्सियां। - Dainik Bhaskar
सदर अस्पताल के वैक्सीनेशन सेंटर में खाली पड़ी कुर्सियां।
  • वैक्सीनेशन के प्रति जागरूक नहीं दिख रहे लोग
  • मोबाइल टीकाकरण कर्मियों के साथ बदसलूकी भी कर रहे लोग

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा वैक्सीनेशन कार्यक्रम चलाकर जिला के 33 टीकाकरण स्थलों पर कोरोना का वैक्सीन लाेगों को दिया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग और जिला तथा प्रखंड प्रशासन द्वारा प्रचार प्रसार कराए जाने के बावजूद लोग वैक्सीनेशन के प्रति जागरूक नहीं दिख रहे हैं। जबकि डीएम रचना पाटिल खुद गांव-गांव जाकर लोगों को कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए वैक्सीन लेने की अपील कर रही है। पंचायत प्रतिनिधियों को लोगों को वैक्सीनेशन के लिए जागरूक करने का निर्देश दे चुकी है। बावजूद लोग वैक्सीन के प्रति जागरूक नहीं हैं। हाल के दिनों में अब काफी कम संख्या में लोग वैक्सीन लेने पहुंच रहे हैं। रविवार को सदर अस्पताल टीकाकरण स्थल पर अपराह्न 02 बजे वैक्सीनेशन कर्मी लोगों के इंतजार में बैठे थे, वैक्सीन लेने वालों के लिए लगाई गई सभी कुर्सियां खाली थी। परंतु एक भी व्यक्ति वैक्सीन लेने वहां नहीं था। वहां तैनात कर्मी ने बताया कि रविवार दोपहर 2 बजे तक वहां 25 लोगों का वैक्सीनेशन हुआ है, जिसमें 18 प्लस के 09 और 45 प्लस के 16 लोग शामिल थे। जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डा. पंकज सागर भी मानते हैं कि हाल के दिनो में वैक्सीन लेने वालों की संख्या में कमी आई है। शनिवार को जिले के 29 सत्र स्थलों पर लक्ष्य का 29% वैक्सीनेशन हुआ था। वहीं रविवार को 33 सत्र स्थलों पर लक्ष्य का 18% ही वैक्सीनेशन हुआ। रविवार को जिले में वैक्सीनेशन के लिए निर्धारित लक्ष्य 2490 के विरूद्ध मात्र 439 लोगों को वैक्सीन दिया गया। इसमें 18 से 44 वर्ष आयु के 149 लोगों को वैक्सीन का प्रथम डोज दिया गया। जबकि 45 प्लस के 175 लोगों को प्रथम डोज और 3 को दूसरा डोज दिया गया।

कोरोना टीका लगवाने के इंतजार में बैठे स्वास्थ्य कर्मी।
कोरोना टीका लगवाने के इंतजार में बैठे स्वास्थ्य कर्मी।

18+ के 22181 लोगों को दिया जा चुका टीका

60 वर्ष से अधिक के 48 वृद्धों को प्रथम डोज और 0 वृद्ध को सेकेण्ड डोज दिया गया। इसके अलावा 13 हेल्थ वर्कर और 42 फ्रंट लाइन कर्मियों को वैक्सीन का प्रथम डोज तथा 8 को सेकेण्ड डोज दिया गया। जिला में 16 जनवरी से अब तक 1,40,733 लोगों को वैक्सीन का डोज दिया गया है। जिसमें 1,12,642 लोगों को प्रथम और 28,091 लोगों को सेकेण्ड डोज दिया गया है। 45 से 59 वर्ष के 36,680 लोगों को और 60 वर्ष से अधिक अधिक उम्र के 57,304 लोग को वैक्सीन दिया जा चुका है। 9 मई से शुरू हुए 18 प्लस वैक्सीनेशन मेंे 22,181 लोग का प्रथम डोज ले चुके हैं।

संग्रामपुर में टीकाकरण टीम से अभद्रता

रविवार को प्रखंड क्षेत्र के अतिरिक्त स्वास्थ्य केंद्र दुर्गापुर में कोरोना टीकाकरण के दौरान दुर्गापुर गांव निवासी जीविका दीदी के पति संतोष यादव द्वारा टीकाकरण में शामिल फार्मासिस्ट संजीव कुमार, एएनएम प्रेमलता कुमारी के साथ अभद्र व्यवहार एवं बदसलूकी कर टीकाकरण कार्य को घंटों बाधित कर दिया। इसको लेकर टीकाकरण टीम के सदस्यों द्वारा अपनी सुरक्षा एवं सम्मान रक्षा को लेकर प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डा उपेंद्र कुमार सिंह की अनुशंसा के साथ लिखित आवेदन संग्रामपुर थाना को देकर आवश्यक कार्यवाही किए जाने की मांग की गई है।

खबरें और भी हैं...