पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना का कहर:बिना प्रशासनिक अनुमति के हुए धार्मिक आयोजन से जिले में कोरोना विस्फोट, 60 नए मरीज मिले, टीके का स्टॉक खत्म

मुंगेर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • माधोपुर का समर्पण अस्पताल बना कन्टेन्मेंट जोन, कुल मरीजों की संख्या हुई 4145
  • राजीव गांधी चौक कन्टेन्मेंट जोन, फिर भी खुली रहीं दुकानें, कोरोना के डर को भूल बेरोकटोक हुई खरीदारी

शहर के माधोपुर में समर्पण निजी नर्सिंग हाेम परिसर में कोरोना गाइडलाइन की अनदेखी करते हुए बिना प्रशासनिक अनुमति के पिछले पांच दिनों से धार्मिक आयोजन हो रहा था। एक दिन पूर्व उक्त नर्सिंग होम के डॉक्टर व प्रवचनकर्ता सहित 3 लोगों के पॉजिटिव पाए जाने के बाद दूसरे दिन गुरुवार को जिले में कोरोना विस्फोट हो गया। गुरुवार को जिले में 60 संक्रमित मरीज मिले। जिसमें समर्पण नर्सिग होम के 9 लाेगों के अलावा मुंगेर शहरी क्षेत्र में कुल 27 कोरोना संक्रमित मरीज मिले। जिसमंे समर्पण अस्पताल में 9, मिर्जापुर के 3, लालदरवाजा के 3, रेलवे स्टेशन के 1 सहित शहर के अन्य क्षेत्रों के लोग शामिल हैं। इसके अलावा जमालपुर में 14, असरगंज में 04, धरहरा में 03, खड़गपुर मे 01, तथा तारापुर में 01 संक्रमित मरीज मिले। सिविल सर्जन डॉ. हरेन्द्र कुमार आलोक ने बताया कि जिले में संक्रमित मरीजों की संख्या 4145 पहुंच गई है। 158 कोरोना एक्टिव मरीजों का इलाज होम आइसोलेशन में हो रहा है। गुरुवार को एक संक्रमित मरीज को ठीक होने पर डिस्चार्ज कर दिया गया। जिला मंे कुल 19 कन्टेन्मेंट जोन सक्रिय हैं। जिसमंे से बरियारपुर के गांधीपुर को कन्टेन्मंेट जोन से बाहर करने का प्रस्ताव डीएम को भेजा गया है। संक्रमण से बचाव हेतु मास्क का प्रयोग, दो गज दूरी, सेनेटाइजेशन, भीड़ भीड़ नहीं लगाने हेतु लोगों को जागरूक करने के लिए प्रचार प्रसार िकया जा रहा है। उन्होंने लोगों से अपील की है कि सर्दी खांसी या बुखार होने पर कोरोना जांच अवश्य कराएं।

जिले में कोरोना संक्रमण चेन खरतनाक होने का डर
सरकारी गाइडलाइन के तहत प्रतिबंध के बावजूद शहर के माधोपुर स्थित समर्पण अस्पताल में बिना प्रशासनिक अनुमति के दो अप्रैल से हो रहे धार्मिक आयोजनमें प्रतिदिन सैकड़ों लोग प्रवचन सुनने पहुंच रहे थे। जहां प्रति दिन कथावाचिका द्वारा लोगों के बीच प्रसाद का वितरण भी किया जा रहा था। गुरुवार को आई रिपोर्ट के अनुसार कथावाचिका, एक डाक्टर सहित कुल 9 लोग पॉजिटिव हो चुके हैं। इन लोगों के संपर्क में आएं लोगों से संक्रमण का बड़ा चेन बनने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता। यदि ऐसा होता है कि स्थिति संभालना मुश्किल हो जाएगा।

कन्टेन्मेंट जोन में खरीदारी करते रहे लोग
डीएम रचना पाटिल के आदेश पर समर्पण अस्पताल और राजीव गांधी चौक को कन्टेन्मेंट जोन बनाते हुए बांस बल्ला से घेराबंदी कर दिया गया है। लेकिन राजीव गांधी चौंक पर प्रशासन द्वारा बनाए गए कन्टेन्मेंट जोन के अंदर अधिकांश दुकानें खुली रही। दुकानदार आराम से दुकान खोलकर सामानों की बिक्री करते रहे। लोग बांस की बैरिकेडिंग पार कर खरीदारी करते रहे। जिले में कोरोना संक्रमण के बढ़ने का अंदाजा केवल इस बात से लगाया जा सकता है कि अप्रैल माह के केवल 8 दिनों में ही जिले में कोरोना के 152 नए पॉजिटिव मरीज मिले। इस दौरान 29 मरीज इलाज के बाद ठीक हुए। 31 मार्च तक जहां जिले में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या मात्र 35 थी, वहीं अप्रैल के केवल 8 दिनों में यह आंकड़ा बढ़कर 158 पहुंच गया है। दोबारा संक्रमण का बढ़ता रफ्तार जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग सहित कई सरकारी कार्यालयों को अपनी चपेट में लेने लगा है।

नहीं हो सकी प्रशासनिक अधिकारियों से बात
बिना प्रशासनिक अनुमति के धार्मिक आयाेजन किए जाने और राजीव गांधी चौक पर बने कन्टेन्मंेट जोन में दुकानदारों द्वारा दुकान खोल कर रखे जाने पर कार्रवाई के बावत डीएम रचना पाटिल और सदर एसडीओ खगेश चंद्र झा से बातचीत का प्रयास किया गया। परंतु भवन निर्माण विभाग के प्रधान सचिव के साथ बैठक में व्यस्त रहने के कारण एसडीओ ने यह कहते हुए टाल दिया कि उनके द्वारा ऐसे किसी आयोजन की अनुमति नहीं दी गई थी। उल्लेखनी हो कि बीते दिनों वली रहमानी के जनाजे में भी लाखों की भीड़ जुटी थी।

आज केवल दो सेंटरों पर दिया जाएगा कोरोना टीका

जिले में कोरोना वैक्सीन का स्टॉक समाप्त हो जाने के कारण शुक्रवार को अधिकांश वैक्सीनेशन सत्र स्थल पर लाेगों को कोरोना का वैक्सीन नहीं दिया जाएगा। जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डा. पंकज सागर ने बताया कि टेटिया बंबर और संग्रामपुर पीएचसी मिलाकर कुल 70 वाइल वैक्सीन बचा है, जिससे उक्त दोनों पीएचसी से संबंधित स्वास्थ्य संस्थानों पर वैक्सीनेशन किया जाएगा। इसके अलावा मुख्यालय सहित अन्य पीएचसी में वैक्सीन का स्टॉक नील है। वैक्सीन का वाइल नहीं रहने के कारण सदर अस्पताल, जीएनएम स्कूल सहित अन्य पीएचसी व हेल्थ वेलनेस सेंटर पर शुक्रवार को वैक्सीनेशन नहीं हो सकेगा। बताया कि तीन दिन पूर्व 1191 वाइल वैक्सीन मुंगेर आया था। जो समाप्त हो चुका है। सिविल सर्जन डा. हरेन्द्र कुमार आलोक ने बताया कि शुक्रवार शाम तक वैक्सीन के स्टॉक पहुंचने की संभावना मुख्यालय द्वारा जताई गई है। ऐसे में शनिवार से सभी सत्र स्थल पर वैक्सीनेशन आरंभ कर दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज मार्केटिंग अथवा मीडिया से संबंधित कोई महत्वपूर्ण जानकारी मिल सकती है, जो आपकी आर्थिक स्थिति के लिए बहुत उपयोगी साबित होगी। किसी भी फोन कॉल को नजरअंदाज ना करें। आपके अधिकतर काम सहज और आरामद...

    और पढ़ें