कोरोना / अब रेड जोन वाले राज्य से आए प्रवासी ही भेजे जाएंगे क्वारेंटाइन सेंटर, अन्य स्थान से आए तो होम क्वारेंटाइन

Now only migrants from the Red Zone state will be sent to the Quarantine Center, if they come from other place, home quarantine
X
Now only migrants from the Red Zone state will be sent to the Quarantine Center, if they come from other place, home quarantine

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 06:11 AM IST

मुंगेर.  सरकार के निर्देश पर जिला प्रशासन अब केवल रेड जोन वाले राज्यों से आए प्रवासियों को ही स्क्रीनिंग व रजिस्ट्रेशन के बाद प्रखंड स्तरीय क्वारेंटाइन सेंटर भेजेगा। शेष राज्य व जिलों से आए प्रवासी स्क्रीनिंग व रजिस्ट्रेशन के पश्चात होम क्वारेंटाइन होंगे। ऐसेे प्रवासियों का आशा, सेविका और चिकित्सक नियमित जांच करेंगे। इस दौरान कोई व्यक्ति बुखार, सर्दी या सूखी खांसी से संक्रमित मिला तो सूचना प्रशासन को देंगे। जिनके स्वाब का सैंपल कलेक्ट कर जांच होगी। सिविल सर्जन डा.पुरूषोत्तम कुमार ने बताया कि अब तक अधिकांश रेड जोन वाले राज्यों से ही आए प्रवासी पॉजिटिव मिले हैं। इसलिए ऐसा निर्णय लिया गया। जबकि ग्रीन और ऑरेंज जोन के राज्यों से आए मजदूर होम क्वारेंटाइन होंगे। जहां डॉक्टर, सेविका, व आशा कार्यकर्ता उनके स्वास्थ्य पर प्रतिदिन नजर रखेंगे। बता दें कि विभिन्न राज्यों से 7987 प्रवासी मुंगेर आए हैं। जिसमें 4,281 प्रवासी श्रमिक स्पेशल ट्रेन से जबकि शेष सड़क मार्ग से बस व अन्य माध्यम से आए। जो 105 क्वारेंटाइन सेंटर में रखा गया है। 
सभी की होगी स्क्रीनिंग व रजिस्ट्रेशन 
जो भी प्रवासी ट्रेन या बस से मुंगेर पहुंचेंगे सभी का मेडिकल स्क्रीनिंग व रजिस्ट्रेशन जिला प्रशासन कराएगा। इनमें से रेड जोन वाले राज्यों के प्रवासियों काे प्रखंड स्तरीय क्वारेंटाइन सेंटर भेजा जाएगा। जबकि ऑरेंज व ग्रीन जोन वाले जगह से आए लोग होम क्वारेंटाइन होंगे।  राजेश मीणा, जिलाधिकारी, मुंगेर
क्वार्टरो मशीन से कोरोना संदिग्ध मरीजों के सैंपल की होगी जांच
ट्रूनेट मशीन से कोरोना संदिग्ध मरीजों के स्वाब सैंपल जांच में हो रही देरी को देखते हुए राज्य स्वास्थ्य समिति सदर अस्पताल को अब क्वार्टरो ट्रू-नेट मशीन देगी। मशीन अगले सप्ताह तक सदर अस्पताल पहुंचेगी। 
  ट्रू नेट से एक घंटा में 02 स्वाब की जांच हो रही थी, क्वार्टरो मशीन से एक घंटा में 04 जांच होगी। दोनों से एक घंटे में 06 स्वाब की जांच होगी। कोरोना संक्रमितों का मुंगेर में ही स्वाब जांच कराने के लिए स्वास्थ्य समिति द्वारा 19 मई को सदर अस्पताल के यक्ष्मा विभाग में ट्रूनेट मशीन लगाया गया था। लेकिन इस मशीन में एक घंटे में केवल 2 सैंपल का ही जांच होती है। इससे सैंपल जांच में देरी हो रही थी। शनिवार को भी 148 स्वाब की जांच पेंडिंग रही। सिविल सर्जन डॉ पुरूषोत्तम कुमार ने बताया कि 19 से 23 मई तक ट्रूनेट मशीन द्वारा 81 सैंपल की जांच हुई। पहले दो दिनों में 36 सैंपल की जांच के बाद 21, 19 और शनिवार को 5 सैंपल जांच हुई। पहले दिन कुछ सैंपल की रिपोर्ट मशीन ने इनवैलिड बताया।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना