राहत:नए संक्रमितों की संख्या में गिरावट शुरू, आफत- मौत की रफ्तार जारी; 4 ने गंवाई जान

मुंगेर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सतीश और मंटू की मौत बुधवार को होम आइसोलेशन में हुई

जिले में रोज मिल रहे कोरोना के नए मरीजों की संख्या में बीते दो दिनों में तो गिरावट आई है, लेकिन इस महामारी की चपेट में आकर जान गंवाने वाले लोगों की संख्या अभी थमती नजर नहीं आ रही है। बुधवार को भी कोरोना से जिले में चार लोगों की मौत हो गई। सभी ब्रेथलेशनेस के शिकार थे। मृतकों में जमालपुर फरीदपुर निवासी 43 वर्षीय सतीश साह, मुंगरौड़ा निवासी 56 वर्षीय मंटू शर्मा, बरियारपुर बाजार निवासी 44 वर्षीय सज्जन कुमार और बुनियादी विद्यालय मिल्की के शिक्षक मुंगेर निवासी अजय भारती शामिल हैं।

सतीश और मंटू की मौत बुधवार को होम आइसोलेशन में हुई। सतीश साह 23 अप्रैल काे पॉजिटिव मिलने के बाद होम आइसोलेशन में इलाजरत थे। मुंगराैड़ा निवासी मंटू शर्मा का जांच 25 को हुआ था, जिसका रिपोर्ट पटना से अब तक नहीं आया है। इसके अलावा बरियारपुर बाजार निवासी 44 वर्षीय सज्जन कुमार की मौत भी ब्रेथलेशनेस के कारण हो गई। वह 24 को एंटीजन जांच में पॉजिटिव पाए गए थे।

इसके बाद होम आइसोलेशन में थे। शिक्षक अजय भारती मुंगेर के निजी अस्पताल में इलाजरत थे। वे पिछले एक सप्ताह से कोरोना से संक्रमित थे। बुधवार की सुबह उन्होंने अंतिम सांस ली। प्रभारी प्रधानाध्यापक अमरेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि अजय भारती एक ईमानदार और कर्तव्यनिष्ठ शिक्षक थे। उनका मकान मुंगेर नीलम सिनेमा हॉल के पास था। विद्यालय के प्रति वो बेहद सजग रहते थे। 1 सप्ताह पूर्व वो पॉजिटिव हुए थे। उनके निधन से शिक्षकों मेंं शोक की लहर है।

कोरोना मरीजों का आंकड़ा पहुंचा 8000 पार
दूसरी ओर बुधवार को जिला में कोरोना पॉजिटिव 225 नए मरीज मिले। संक्रमितों की संख्या बढ़कर 8126 हो गई है। सिविल सर्जन डा. हरेन्द्र कुमार आलोक ने बताया कि कोरोना एक्टिव 2303 मरीज इलाजरत हैं। जबकि इलाजरत 252 लोगों का रिसैंपल जांच रिपोर्ट निगेटिव आने पर डिस्चार्ज कर दिया गया। अब तक 5751 संक्रमित इलाज के बाद ठीक होकर घर लौट चुके हैं। बुधवार को 3 गंभीर मरीजों को जीएनएम आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया। विभिन्न आइसोलेशन वार्ड में कुल 55 मरीज इलाजरत हैं।

मुंगेर को मिला 50 रेमडेशिविर इंजेक्शन
कोरोना संक्रमण के इलाज में सहायक रेमडेशिविर इंजेक्शन का 50 वाइल मुंगेर जिला स्वास्थ्य समिति को स्वास्थ्य विभाग द्वारा उपलब्ध कराया गया है। सिविल सर्जन डा. हरेन्द्र कुमार आलोक ने बताया कि रेमडेशिविर इंजेक्शन को कोविड आइसोलेटेड आईसीयू में उपलब्ध कराया जाएगा। जहां कोरोना संक्रमित मरीजों का उपचार चल रहा है। रेमडेशिविर की कालाबाजारी चरम पर है। 3400 का एक वाइल 20 से 22 हजार में बिक रहा है।

शहरी क्षेत्र में सर्वाधिक 46 नए संक्रमित मिले
बुधवार को मुंगेर शहरी व ग्रामीण में 46, धरहरा में 37, खड़गपुर में 36, जमालपुर में 36, बरियारपुर में 19, असरगंज में 17, संग्रामपुर में 13, तारापुर में 11, टेटियाबंबर में 1 मरीज संक्रमित मिले। इसके अलावा भागलपुर का 4 बांका का 4 तथा सूर्यगढ़ा का 1 मरीज जो मंुगेर में जांच कराए थे, उनका रिपोर्ट पॉजिटिव मिला है। सभी को होम आइसोलेशन में भेजा गया।

खबरें और भी हैं...