पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नियुक्त:कैदी की मौत: एसडीओ व जेल अधीक्षक के समझाने पर हुआ पोस्टमार्टम

मुंगेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मंडल कारा में हत्या के आरोप में बंद कैदी मोरका रामनगर निवासी लालू तांती की सदर अस्पताल में गुरुवार की शाम हुई मौत के बाद शुक्रवार को कैदी के शव का पोस्टमार्टम के लिए ले जाने का विरोध परिजनों द्वारा किया गया। मृतक के परिजन कैदी के इलाज में चिकित्सक की लापरवाही का आरोप लगाते हुए दोषी चिकित्सक पर कार्रवाई की मांग कर रहे थे।

साथ ही जेल में बंद मृत कैदी के दो अन्य भाइयों से भी परिजन मुलाकात कराने की मांग कर रहे थे। ताकि कैदी के मौत की सही जानकारी प्राप्त हो सके। मृत कैदी के परिजनों द्वारा विरोध किए जाने की जानकारी मिलने पर सदर एसडीओ खगेश चंद्र झा, जेल अधीक्षक जलज कुमार सहित कई अधिकारी सदर अस्पताल पहुंचे। जहां परिजनों को काफी समझाने बुझाने के बाद मामला शांत हुआ और शव का पोस्टमार्टम कराया गया। इसके बाद शव का दाह संस्कार के लिए सीजीएम द्वारा न्यायिक दंडाधिकारी फर्स्ट क्लास मजिस्ट्रेट चंदन कुमार और जिलाधिकारी के द्वारा दंडाधिकारी के तौर पर कार्यपालक पदाधिकारी प्रमोद कुमार बैठा को नियुक्त किया गया।

राकेश हत्याकांड में जेल में थे लालू और उसके दोनों भाई
परिजनों के आग्रह पर जेल मे बंद मृत कैदी के 02 अन्य भाइयों को अंतिम दर्शन के लिए जेल प्रशासन ने न्यायालय से आदेश लेकर पुलिस सुरक्षा के बीच श्मशान घाट पर भेजा गया। जहां दोनों भाई ने मृतक भाई का अंतिम दर्शन किया। इसके बाद पुन: दोनों कैदी भाई को ल वापस लाया गया।

27 अगस्त 2020 को मोरका रामनगर निवासी राकेश की गोली मारकर हत्या मामले में लालू तांती सहित 07 लोगों को नामजद आरोपी बनाया गया था। 8 सितंबर को मृतक लालू तांती और उनके दो अन्य भाईयों ने सरेंडर किया था।

खबरें और भी हैं...